बांग्लादेश के ऑफ स्पिनर खिलाड़ी मेहदी हसन (Mehidy Hasan) ने वेस्टइंडीज के खिलाफ चट्टोग्राम टेस्ट को अपने लिए यादगार बना लिया है. गुरुवार को इस टेस्ट मैच के दूसरे दिन 8वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे इस खिलाड़ी ने अपने टेस्ट जीवन का पहला शतक (103) जड़ दिया. इस तरह बांग्लादेश की टीम अपनी पहली पारी में 430 रन का विशाल स्कोर खड़ कर ऑलआउट हुई. इस पारी में मेहदी अपनी टीम की ओर से शतक जड़ने वाले इकलौते बल्लेबाज थे. पारी का आखिरी विकेट भी उन्हीं के रूप में गिरा.

पहली पारी में मेजबान टीम के 430 रन के जवाब में उतरी वेस्टइंडीज ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने पर 2 विकेट पर 75 रन बना लिए हैं. फिलहाल बांग्लादेश मजबूत स्थिति में दिख रहा है. स्टंप्स के समय कप्तान क्रेग ब्रेथवेट 49, जबकि एनक्रुमाह बोनेर 17 रन बनाकर खेल रहे थे. दोनों 51 रन की अटूट साझेदारी कर चुके हैं. ऑलराउंडर मेहदी ने 168 गेंद में 13 चौकों की मदद से 103 रन की पारी खेली. उन्होंने शाकिब अल हसन (68) के साथ 7वें विकेट के लिए 67, ताइजुल इस्लाम (18) के साथ 8वें विकेट के लिए 45 और नईम हसन (24) के साथ 9वें विकेट के लिए 67 रन की उपयोगी साझेदारियां बनाई.

इससे पहले बांग्लादेश ने दिन की शुरुआत 5 विकेट पर 242 रन से की थी. टीम ने सुबह लिटन दास (38) का विकेट जल्दी गंवाया, जो अपने कल के स्कोर में 4 रन जोड़कर पवेलियन लौट गए. शाकिब और मेहदी ने इसके बाद पारी को संभाला. शाकिब ने यहां अपना 25वां अर्धशतक पूरा किया. वह 17 महीने बाद टेस्ट क्रिकेट में लौटे हैं.

ऑफ स्पिनर रकहीम कोर्नवाल ने अतिरिक्त उछाल लेती गेंद पर शाकिब को ब्रेथवेट के हाथों कैच कराया. इस बीच 99 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा करने वाले मेहदी फिफ्टी के बाद अपने तेवर बदल लिए और आक्रामक रुख अख्तियार करते हुए दूसरा अर्धशतक सिर्फ 69 गेंद में पूरा किया. शतक पूरा करने के बाद मेहदी कोर्नवाल की गेंद पर पवेलियन लौटे.