चेतेश्वर पुजारा ने हाल ही में ईरानी कप जीत है। © Getty Images
चेतेश्वर पुजारा ने हाल ही में ईरानी कप जीत है। © Getty Images

भारतीय टेस्ट टीम के सबसे मजबूत खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा ने यह साबित कर दिया है कि वह छोटे फॉर्मेट में भी रन बना सकते हैं। पुजारा की ख्वाहिश आईपीएल और भारत के लिए टी20 टीम में खेलने की है। पुजारा ने शेष भारत के कप्तानी करते हुए गुजरात टीम को ईरानी कप हराया। पुजारा ने कहा, “मैं निश्चित रूप से इस प्रारूप में अपनी पहचान बनाना चाहता हूं। मैंने टी20 में अच्छा प्रदर्शन किया है। मैंने डी वीई पाटिल टी20 टूर्नामेंट में शतक और दो अर्धशतक जड़े। मुझे भरोसा है कि मैं टेस्ट के अलावा दूसरे प्रारूपों में भी अच्छा खेल सकता हूं।” ये भी पढ़ें: खराब रोशनी के कारण बदल सकता है भारत बनाम इंग्लैंड पहले टी20 का समय

पुजारा को अब तक केवल टेस्ट का ही बल्लेबाजा माना जाता रहा है। लेकिन वनडे और टी20 में उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा। खासकर टी20 जैसे फटाफट प्रारूप में, उन्होंने आईपीएल के आखिरी दो सत्रों में खेलने का मौका तक नहीं मिला। अब वह इस लीग में धमाकेदार वापसी करने के मूड में हैं। उनका कहना है कि उन्होंने अपनी स्ट्राइक रेट को काफी सुधार लिया है। उन्होंने कहा, “मैं आईपीएल खेलना चाहता हूं। मैंने तैयारी भी की है, मेरे पास कई शॉट्स हैं। मैंने डी वाई पाटिल टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन किया। इसलिए मैं मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी हिस्सा लूंगा।” ये भी पढ़ें: भारत ए टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया दौर पर बहुत कुछ सीखा: हार्दिक पांड्या

पुजारा जिस तरह से घरेलू टी20 टूर्नामेंट में खेल रहें हैं सीमित ओवर के लिए टीम इंडिया में उन्हें भले ही जगह ना मिले लेकिन आईपीएल में हम उन्हें खेलते जरूर देख पाएंगे। इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिली शानदार जीत में उनका अहम योगदान था।