Cricket World Cup 2019: Michael Holding hits back at ICC after attempt to gag
Michael Holding (File Photo) @ Getty Image

विश्‍व कप 2019 में कमेट्री के दौरान खराब अंपारिंग को लेकर वेस्‍टइंडीज के दिग्‍गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने कड़ी प्रतिक्रिया दी तो आईसीसी के आधिकारिक प्रसारणकर्ता की तरफ से उन्‍हें ऐसा नहीं करने की हिदायत दी गई। इससे भड़के होल्डिंग ने कमेंट्री पैनल छोड़ने की पेशकर कर डाली।

World Cup 2019 Points Table

विश्‍व कप के दौरान होल्डिंग आईसीसी के कमेंट्री पैनल का हिस्‍सा हैं। पिछले सप्‍ताह ऑस्‍ट्रेलिया और वेस्‍टइंडीज के बीच हुए मुकाबले के दौरान खराब अंपायरिंग पर अपनी राय रखते हुए उन्‍होंने इसे विंडीज के खिलाफ क्रूरता करार दिया था। मैच के दौरान क्रिस गेल को तीन बार आउट दिया गया। दो बार रिव्‍यू के दौरान वो बच गए। तीसरी बार अंपायर्स कॉल होने के कारण उन्‍हें आउट दिया गया। हालांकि तीसरे मौके पर जिस गेंद पर उन्‍हें आउट दिया गया वो वास्‍तव में फ्री हिट होनी चाहिए थी। अंपायर की बेध्‍यानी के चलते पिछली गेंद को नोबॉल नहीं दिया गया था।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक मुखर बयानों को देखते हुए मैचों का प्रसारण कर रही कंपनी सनसेट एंड विन एशिया के हुव बेवन ने माइकल होल्डिंग को एक ईमेल भेजा। इस मेल में उन्‍होंने होल्डिंग को टूर्नामेंट की कवरेज के दौरान खेल की मर्यादा और उसके उच्‍चतम मानकों को बनाए रखने की सलाह दी गई।

पढ़ें:- धवन के चोटिल होने के बाद नंबर-4 पर रिषभ पंत को मिले जगह: पीटरसन

मेल में कहा गया कि आईसीसी की तरफ से टीवी प्रोडक्‍शन की ड्यूटी निभाते समय उन्‍हें नकारात्‍मक विचार नहीं रखने चाहिए। उन्‍हें मैच के दौरान अंपायर की विश्‍वसनीयता पर सवाल नहीं उठाना चाहिए। कहा गया विश्‍व कप शुरू होने से पहले सभी वरिष्‍ठ कमेंटेटर्स व प्रोडक्‍शन से जुड़े अन्‍य लोगों को ये बताया गया था कि हमें अंपायर की गलतियों को बढ़ा चढ़ा कर पेश नहीं करना है। हमें अंपायर को गलत तरह से पेश नहीं करना है। हमें मैच और टूर्नामेंट को लेकर कोई विवाद पैदा नहीं करना है।

पढ़ें:- मेडिकल टीम की निगरानी में हैं शिखर धवन : बीसीसीआई

ईमेल मिलने से होल्डिंग काफी गुस्‍से में आ गए। उन्‍होंने जवाबी ईमेल में कमेंट्री छोड़ने की पेशकश तक कर दी। उन्‍होंने लिखा,”अगर वो अंपायर फीफा (फुटबाल) से जुड़े होते तो उन्‍हें अब तक अपना बोरिया बिस्‍तर पैक करने के लिए कह दिया गया होता। उन्‍हें विश्‍व कप में एक और मैच में अंपायरिंग का मौका भी नहीं दिया जाता। एक पूर्व क्रिकेटर होने के नाते मुझे लगता है कि क्रिकेट को उच्‍च स्‍तर पर खेला जाना चाहिए। क्‍या हमारा मकसद एक अंपायर को बचाना है जो अपना काम ठीक से नहीं कर रहा है।”

“माफ करना मैं इसका हिस्‍सा नहीं बनने जा रहा हूं। मुझे साफ किया जाए कि क्‍या मुझे अपने घर चला जाना चाहिए क्‍योंकि मुझे जो इस मेल में कहा गया है उससे मैं इत्‍तेफाक नहीं रखता हूं।” होल्डिंग ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए ईमेल मिलने की पुष्टि की। साथ ही उन्‍होंने कहा कि मामला अब सुलझ चुका है।