बेन स्टोक्स © Getty Images
बेन स्टोक्स © Getty Images

इंग्लैंड बनाम वेस्ट इंडीज दूसरे टेस्ट का पहला दिन खत्म होने तक मेहमान टीम ने एक विकेट के नुकसान पर 19 रन बना लिए हैं। विंडीज टीम के सलामी बल्लेबाज कायरान पॉवेल के 5 रन बनाकर आउट होने के बाद क्रैग ब्रैथवेट (13) और देवेंद्र बिशू (1) क्रीज पर बने हुए हैं। वेस्ट इंडीज टीम इंग्लैंड से 239 रनों से पीछे है। पहली पारी में वेस्ट इंडीज के केमर रोच और शैनन गाबरियाल ने 4-4 विकेट लेकर इंग्लैंड के बल्लेबाजी क्रम को बिखेर कर रख दिया। वहीं हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स के शतक की मदद से इंग्लैंड 258 के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच सका।

पहले दिन का खेल इंग्लैंड की पारी के साथ शुरू हुआ। टॉस जीतकर कप्तान जो रूट ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पूर्व कप्तान एलेस्टर कुक के साथ मार्क स्टोनमैन ने पारी की शुरुआत की। इंग्लैंड को पहला झटका आठवें ओवर में लगा, जब कुक गाबरियाल की गेंद पर कैच आउट हुए। तीसरे स्थान पर बल्लेबाजी करने आए टॉम वेस्ली केवल 3 रन बनाकर रोच का शिकार बने। इसके बाद कप्तान जो रूट ने पारी की जिम्मेदारी अपने हाथों में ले ली। रूट ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक जड़ा। रूट एक छोर से बल्लेबाजी करते रहे, वहीं दूसरे छोर से विकेट गिरते रहे। पहले 15वें ओवर में स्टोनमैन रोच की गेंद पर कैच आउट हुए और फिर डेविड मलान कप्तान जेसन होल्डर की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद बेन स्टोक्स ने कप्तान का साथ दिया। रूट ने स्टोक्स के साथ मिलकर 69 रनों की साझेदारी बनाई। हालांकि इतनी अच्छी पारी खेलने के बाद भी रूट अपना शतक पूरा नहीं कर सके और 59 रन बनाकर बिशू का शिकार बने। [ये भी पढ़ें: जो रूट ने लगातार 12वें टेस्ट में ठोका अर्धशतक, वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी की]

रूट के पवेलियन लौटने के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बियरस्टो (2) भी सस्ते में आउट हो गए। इसके बाद स्टोक्स और मोइन अली के बीच 68 रनों की एक बढ़िया साझेदारी बनी। 61वें ओवर में अली के 22 रन बनाकर रोच की गेंद पर आउट होने के बाद स्टोक्स ने क्रिस वोक्स के साथ 38 रनों की छोटी लेकिन अहम साझेदारी बनाई। इसी बीच स्टोक्स ने अपना शतक भी पूरा किया। उन्होंने 124 गेंदो में 17 चौकों की मदद से 100 रन बनाए। शतक बनाते ही स्टोक्स गाबरियाल को अपना विकेट दे बैठे। स्टोक्स के आउट होने के बाद इंग्लैंड की पारी लगभग समाप्त हो गई। वोक्स और स्टुअर्ट ब्रॉड को आउट कर रोच और गाबरियाल ने मेजबान टीम को 258 रनों पर समेटा। एम एस धोनी हैं दुनिया के सबसे बड़े ‘फिनिशर’, विराट कोहली को छोड़ा पीछे

पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज टीम की शुरुआत खास अच्छी नहीं रही। पारी के सातवें ओवर में ही एंडरसन ने कायरान पॉवेल को एलेस्टर कुक के हाथों कैच आउट करवाया। इसी के साथ कुक ने एंडरसन की गेंद पर अपने 36 कैच पूरे किए, जो कि किसी भी तेज गेंदबाज के ओवर में लिए गए सर्वाधिक कैच हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड जैक कॉलिस के नाम था जिन्होंने माख्या नतीनी की गेंदों पर 35  कैच लिए थे। दिन का खेल खत्म होने तक वेस्ट इंडीज ने एक विकेट खोकर 19 रन जोड़ लिए हैं।