WV Raman. @ BCCI
Former Indian opener WV Raman appoint as New coach of Indian women Team
WV Raman (File Photo) @ BCCI

गैरी कर्स्टन पर तरजीह देते हुए पूर्व सलामी बल्लेबाज डब्लू वी रमन को गुरुवार को भारतीय महिला क्रिकेट टीम का नया कोच नियुक्त किया गया। चयन प्रक्रिया को लेकर प्रशासकों में अभी भी आपसी मतभेद हैं। बीसीसीआई के सूत्र ने पीटीआई को यह जानकारी दी।

रमन (53 वर्ष) इस समय बैंगलोर में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में बल्लेबाजी सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं। अधिकारी ने कहा, ‘‘कर्स्टन बीसीसीआई की तदर्थ चयन समिति की पहली पसंद थे, लेकिन रमन को यह पद मिला क्योंकि कर्स्टन आईपीएल फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ अपना पद छोड़ने को तैयार नहीं हैं।’’

पढ़ें:- टेस्ट रैंकिंग में कोहली की बादशाहत कायम, पंत टॉप 50 में शामिल

चयन समिति में पूर्व कप्तान कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और एस रंगास्वामी शामिल हैं। विश्वस्त सूत्र ने कहा कि पैनल ने बोर्ड को तीन नाम -कर्स्टन, रमन और वेंकटेश प्रसाद- की सिफारिश की, लेकिन बीसीसीआई ने पद के लिये रमन को चुना।

यह नियुक्ति प्रशासकों की समिति (सीओए) के मुद्दें पर विभाजित विचारों के बावजूद की गयी जिसमें डायना एडुल्जी ने चेयरमैन विनोद राय को चयन प्रक्रिया रोकने को कहा था। बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी ने भी प्रक्रिया पर सवाल उठाये और कहा कि इसे राय की मंजूरी मिली थी, एडुल्जी की नहीं।

पढ़ें:- मौके को खुद पर हावी न होने दो, भले ही विश्‍व कप फाइनल मैच क्‍यों न हो: गंभीर

रमन भारत के लिए 11 टेस्ट और 27 वनडे खेले हैं और इस समय वो देश के सबसे योग्य कोचों में से एक हैं। वो तमिलनाडु और बंगाल जैसी बड़ी रणजी ट्रॉफी टीम को कोचिंग दे चुके हैं और भारत अंडर-19 टीम के साथ भी काम कर चुके हैं।

रमन को साल 1992-93 दौरे पर दक्षिण अफ्रीका में शतक जड़ने वाले पहले भारतीय के रूप में भी याद किया जाता है। कर्स्टन, रमन और प्रसाद के अलावा 28 आवेदकों में से जिन अन्य उम्मीदवारों को गुरूवार को साक्षात्कार के लिये छांटा गया था, उनमें मनोज प्रभाकर, ट्रेंट जानस्टन, दिमित्री मास्करेन्हास, ब्रैंड हॉज और कल्पना वेकंटाचर शामिल थे।

इन तीन से मिलकर साक्षात्कार किया गया जबकि कर्स्टन सहित पांच अन्य से स्काइप पर और एक से फोन पर इंटरव्यू लिया गया। भारत की पुरूष टीम को 2011 विश्व कप में खिताब दिलाने वाले कर्स्टन इन सभी में पहली पसंद थे। बीसीसीआई अधिकारी ने कहा, ‘‘तरजीह के क्रम में वो शीर्ष पर थे लेकिन वह रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को नहीं छोड़ना चाहते थे। रमन अच्छी पसंद हैं क्योंकि टीम को इस समय बल्लेबाजी कोच की जरूरत है। प्रसाद इस क्रम में तीसरे नंबर पर थे। ’’