ICC World cup 2019, SL vs SA: Sri Lanka wish to stronger its position for Semi Final berth
Lasith Malinga (L), Faf du Plessis (R)

इंग्लैंड के खिलाफ जीत से आत्मविश्वास से भरी श्रीलंका की टीम शुक्रवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ करो या मरो के मुकाबले में जीत के साथ सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीद बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी।

इंग्लैंड के खिलाफ श्रीलंका की 20 रन की जीत ने सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली टीमों की दावेदारी को रोचक बना दिया है। श्रीलंका की टीम फिलहाल दो जीत से छह अंक के साथ सातवें स्थान पर है। टीम को हालांकि सेमीफाइनल की उम्मीद जीवंत रखने के लिए अपने बाकी बचे तीनों मैच जीतने होंगे।

पढ़ें:- IND-ENG मैच में पाक की हालत पर नासिर हुसैन ने ली चुटकी, पूछा मजेदार सवाल

श्रीलंका की टीम का इरादा जहां अपने अभियान में नई जान फूंकने का होगा तो वहीं सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुका दक्षिण अफ्रीका 1996 की चैंपियन टीम को हराकर अपनी क्षमता दिखाने का प्रयास करेगा।

पिछले विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बनाने वाला दक्षिण अफ्रीका पाकिस्तान के खिलाफ 49 रन की हार के साथ नाकआउट की दौड़ से बाहर हो गया। टीम अपने निराशाजनक अभियान के दौरान गलतियों से सबक लेने में विफल रही। दक्षिण अफ्रीका के पास अब गंवाने के लिए कुछ नहीं है और टीम सांतवना भरी जीत दर्ज करने की कोशिश करेगी।

पढ़ें:- भारत से शर्मनाक हार के बाद विंडीज के कप्‍तान जेसन होल्‍डर बोले..

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद कहा था, ‘‘आज हम जिस तरह खेले वह शर्मनाक है। फिलहाल हम सामान्य टीम नजर आ रहे हैं क्योंकि हम लगातार गलतियों को दोहरा रहे हैं। एक कदम आगे बढ़ना और दो कदम पीछे हटना अच्छी टीम की निशानी नहीं है। खिलाड़ियों का मनोबल गिरा हुआ है और वे गलतियां दोहरा रहे हैं।’’

दोनों ही टीमों को अपने बल्लेबाजी क्रम को लेकर जूझना पड़ा है लेकिन श्रीलंका के पास लसिथ मलिंगा की अगुवाई वाला अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण है। इंग्लैंड के खिलाफ धनंजय डिसिल्वा के साथ मिलकर मलिंगा ने 233 रन के लक्ष्य का बचाव करने और मेजबान टीम को 212 रन पर समेटने में अहम भूमिका निभाई थी। श्रीलंका को हालांकि अगर एक और जीत दर्ज करनी है तो उनके बल्लेबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा और गेंदबाजों का साथ देना होगा।