न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज साइमन डूल (Simon Doull) को लगता है कि भारत को कीवी टीम के खिलाफ टेस्ट सीरीज में उन स्टार क्रिकेटरों की कमी नहीं खलेगी जिन्हें दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए आराम दिया गया है।

रोहित शर्मा (Rohit Sharma), जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), रिषभ पंत (Rishabh Pant) और मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) को टेस्ट सीरीज़ के लिए आराम दिया गया है, जबकि विराट कोहली (Virat Kohli) दूसरे टेस्ट के लिए टीम का नेतृत्व करने के लिए वापसी करेंगे, लेकिन डूल का मानना है कि भारत इनमें से केवल तीन की कमी महसूस कर सकता है।

उन तीन खिलाड़ियों के बारे में डूल ने कहा, “ये टीमें अच्छी तरह से मेल खाती हैं। भारत को इन घरेलू परिस्थितियों में स्पिन गेंदबाजी विभाग का फायदा मिलेगा। मुझे पता है कि जब आप बुमराह, शमी, पंत, रोहित और कोहली को देखते हैं तो पांच प्रमुख खिलाड़ी गायब हैं लेकिन मुझे लगता है कि उनमें से केवल तीन की कमी खलेगी- और वो रोहित, विराट और बुमराह हैं।”

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “हां, पंत खेल को आपसे दूर ले जा सकते हैं लेकिन इस प्रकार की स्थितियों में, आपको अपने सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर की जरूरत होती है और वो हैं साहा। इसलिए मुझे नहीं लगता कि वो रिषभ पंत की जगह साहा के होने से कुछ भी खोते हैं।”

भारत ने तीन स्पिनरों – रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और अक्षर पटेल – और दो तेज गेंदबाजों – उमेश यादव और इशांत शर्मा को अपनी प्लेइंग इलेवन में शामिल किया।

डूल ने अपना 50वां टेस्ट खेल रहे उमेश की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनका प्रभावशाली रिकॉर्ड खुद के लिए बोलता है। न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज ने उमेश के घरेलू रिकॉर्ड पर जोर देते हुए कहा कि बुमराह और शमी को इलेवन से बाहर रखना काफी अच्छा है।

उन्होंने कहा, “अगर बुमराह और शमी यहां होते, तो मुझे यकीन नहीं होता कि वो खेलते क्योंकि उमेश यादव का रिकॉर्ड इतना अच्छा है कि उनके खेलने की गारंटी है। मुझे लगता है कि वो पांच में से केवल तीन खिलाड़ियों को बड़े पैमाने पर मिस करेंगे लेकिन बाकी दो के बिना वो खेल सकते हैं, खासकर इस टेस्ट मैच के लिए।”