पाकिस्तान को विश्व कप जिताने वाले कप्तान और मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईसीसी विश्व कप 2019 में भारत के खिलाफ मैच से पहले पाकिस्तान टीम को शुभकामनाएं भेजी हैं।

पाक प्रधानंत्री ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए सरफराज अहमद की टीम को हार का डर मन से निकाल कर भारत का सामना करने की सलाह दी है। साथ ही पूर्व क्रिकेटर ने सरफराज को कुछ अहम टिप्स भी दिए।

पूर्व क्रिकेटर ने लिखा, “जब मैंने अपना करियर शुरू किया था तो मुझे लगता था कि सफलता 70 प्रतिशत प्रतिभा और 30 प्रतिशत दिमाग पर निर्भर करती थी। अपने करियर के आखिरी पड़ाव तक पहुंचते पहुंचते मुझे समझ आ गया कि ये 50-50 का मामला होता है। लेकिन आज मैं अपने दोस्त गावस्कर (सुनील गावस्कर) की बात से सहमत हूं कि ये 60 प्रतिशत मानसिक ताकत और 40 प्रतिशत प्रतिभा का मेल है। आज के मैच में मानसिक शक्ति की भूमिका 70 प्रतिशत तक होगी।”

उन्होंने आगे लिखा, “आज के मैच की गंभीरता को देखते हुए, दोनों ही टीमें काफी दबाव में होंगी और मानसिक ताकत ही मैच का नतीजा निश्चित करेगी। हम खुशकिस्मत हैं कि हमारे पास सरफराज अहमद के रूप में एक साहसी कप्तान है और आज उसे अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा।”

अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में इंग्लैंड की कप्तानी करने को तैयार हैं जोस बटलर

पाक पीएम ने आगे लिखा, “हार के सारे डर दिमाग से निकाल दें क्योंकि दिमाग एक समय पर एक ही काम कर सकता है। हार का डर नकारात्मक और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है और विपक्षी टीम की गलतियों पर आपका ध्यान नहीं जाता।”

दबाव में नहीं चलते हैं ऑलराउंडर खिलाड़ी

मौजूदा कप्तान सरफराज को सलाह देते हुए इमरान ने लिखा, “जीत की रणनीति बनाने के लिए सरफराज को स्पेशलिस्ट बल्लेबाजों और गेंदबाजों के साथ जाना चाहिए क्योंकि ‘रिल्लू कट्टास’ (ऑलराउंडर खिलाड़ी) दबाव में बहुत कम प्रदर्शन कर पाते हैं। खासकर कि उस तरह के दबाव में जो आज होने वाला है। अगर पिच डैम्प होती है तो सरफराज को टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करनी चाहिए।”

‘स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर के खिलाफ हूटिंग करना पड़ेगा भारी’

उन्होंने आगे लिखा, “आखिर में, माना कि भारत फेवरेट है लेकिन आपको बिना किसी डर के खेलना चाहिए। अपना सर्वश्रेष्ठ दें और आखिरी गेंद तक लड़ें। फिर एक सच्चे खिलाड़ी की तरह जो भी नतीजा आए उसे स्वीकार करें। देश की दुआएं आपके साथ हैं, शुभकामनाएं।”