James Anderson urged England cricket fans to stop jeering David Warner, Steve Smith

इंग्लिश तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने फैंस से ऑस्ट्रेलिया खिलाड़ियों स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के खिलाफ हूटिंग ना करने का निवेदन किया है।

इंग्लैंड में आईसीसी विश्व कप 2019 खेल रहे स्मिथ और वार्नर को लगभग हर मैच के दौरान इंग्लैंड के दर्शकों की तरफ से हूंटिंग का सामना करना पड़ रहा है। कई बार स्मिथ या वार्नर के मैदान में आने पर फैंस ने उन्हें चीटर कहा। एंडरसन ने फैंस को ऐसा करना से मना किया क्योंकि वो जानते हैं कि स्मिथ-वार्नर जैसे खिलाड़ी इस तरह की चीजों से और मजबूत होंगे।

एंडरसन ने कहा, “उनके खिलाफ कई बार खेलने के बाद और ये जानते हुए कि वो इस तरह की हरकतों पर कैसी प्रतिक्रिया देते हैं, चाहे वो मैदान पर स्लेजिंग हो या भीड़ की हूटिंग हो, वो अपना प्रदर्शन और बेहतर कर रहे हैं। स्टुअर्ट ब्रॉड को ऑस्ट्रेलिया जाता देखना, जब वहां पर दर्शकों ने उसके खिलाफ हूटिंग की तो इस चीज ने उसे और दृढ़ निश्चयी बना दिया।”

ICC विश्व कप: कहां देखें भारत-पाकिस्तान मैच की लाइव स्ट्रीमिंग

एंडरसन ने आगे कहा, “मैं समझ सकता हूं कि उन्होंने जो किया वो लोगों को पंसद नहीं आया है। मैं उसके बारे में बात ना करना पसंद करूंगा, हालांकि मुझे ये लग रहा है कि उसके बारे में बात की जाएगी।”

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच के दौरान टीम इंडिया के फैंस को स्मिथ के खिलाफ हूटिंग करने से रोका था और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के प्रति सम्मान दिखाने के लिए कहा था। एंडरसन ने इसके लिए कोहली की तारीफ की।

उन्होंने कहा, “आजकल दुनिया भर में जितना टी20 क्रिकेट खेला जा रहा है, बिग बैश और आईपीएल जैसे टूर्नामेंट हैं, ऐसे में खिलाड़ी एक दूसरे को बेहतर तरीके से जान पा रहे हैं। आप जब मैदान पर जाकर उनके खिलाफ खेलते हैं तो अलग तरह का संबंध होता है। ऐसा पहले होता था जब क्रिकेट एक सोशल खेल था।”

IND vs PAK Dream11 Prediction: भारत-पाकिस्तान मैच में इन खिलाड़ियों पर रहेगी नजर

एंडरसन ने आगे समझाया, “70 के दशक में आपको एक रेस्ट डे (पांच दिवसीय टेस्ट मैचों के बीच एक दिन के ब्रेक का रुझान था) आप किसी के घर खाने के लिए जाते थे और आप लोगों को बेहतर तरीके से जानते थे। मेरे करियर में मैंने काफी क्रिकेट खेला है, आजकल होटल, मैदान, फ्लाइट और फिर होटल इन सब में इतना समय जाता है कि आपको विपक्षी खिलाड़ियों के साथ बिताने के लिए समय ही नहीं मिलता। इसे बदलता देखकर अच्छा लग रहा है।”