इंडिया ए और दक्षिण अफ्रीका ए के बीच गुरुवार से शुरू हो रही पांच अनौपचारिक वनडे क्रिकेट मैचों की सीरीज में नजरें शुभमन गिल पर टिकी होंगी।

हाल के समय में अच्छी फॉर्म में चल रहे गिल ने इंडिया ए के साथ कैरेबियाई दौरे पर अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन सीनियर वनडे  टीम में जगह बनाने से चूक गए। गिल अब दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ अपनी छाप छोड़ने की कोशिश करेंगे।

पढ़ें: T20 Blast: फिंच के तूफानी शतक से समरसेट के खिलाफ सर्रे को मिली जीत

इस साल न्यूजीलैंड में दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले पंजाब के दाएं हाथ के बल्लेबाज गिल कैरेबियाई दौरे की फॉर्म आगामी सीरीज में भी बरकरार रखते हुए चयनकर्ताओं को प्रभावित करने की कोशिश करेंगे।

ऑलराउंडर विजय शंकर पर होगी सेलेक्टर्स की नजर

गिल के अलावा पैर के अंगूठे की चोट से उबरने वाले ऑलराउंडर विजय शंकर पर भी चयनकर्ताओं की नजरें होंगी।

शंकर को इस चोट के कारण इंग्लैंड में आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के बीच से स्वदेश लौटना पड़ा था और हाल में तमिलनाडु प्रीमियर लीग के साथ उन्होंने प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी की।

पढ़ें: जोफ्रा आर्चर की तुलना में बाकी गेंदबाज मेरे खिलाफ ज्यादा सफल: स्टीव स्मिथ

वेस्टइंडीज दौरे पर भारत की सीमित ओवरों की सीनियर टीम में वापसी करने वाले मनीष पांडे पहले तीन मैचों में टीम की अगुआई करेंगे जबकि अंतिम दो मैचों में यह भूमिका श्रेयस अय्यर निभाएंगे।

पांडे बड़ी पारियां खेलकर चयनकर्ताओं को प्रभावित करने की कोशिश करेंगे क्योंकि सीनियर टीम के मध्यक्रम में स्थायी जगह बनाने को लेकर संघर्ष अब भी जारी है।

चहल के पास लय वापस हासिल करने का मौका 

टीम में कई ऐसे खिलाड़ियों को जगह दी गई है जो वेस्टइंडीज में सीमित ओवरों की सीनियर टीम के सदस्य थे।

यह सीरीज लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को भी लय वापस हासिल करने का मौका देगी। कैरेबियाई दौरे पर टी20 सीरीज में गेंद और बल्ले दोनों से प्रभावित करने वाले क्रुणाल पांड्या के अलावा इशान किशन, रितुराज गायकवाड़ और नीतीश राणा जैसे युवा प्रतिभावान खिलाड़ी भी अपनी छाप छोड़ने का प्रयास करेंगे।

इंडिया ए के तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई खलील अहमद और दीपक चाहर करेंगे।

दक्षिण अफ्रीका की कमान टेंबा बावुमा के हाथों में 

दक्षिण अफ्रीका ए की कमान अनुभवी टेंबा बावुमा के हाथों में है। सीनियर टीम के दौरे से पहले यह सीरीज उन्हें भारत की परिस्थितियों से  सामंजस्य बैठाने का मौका देगी। टीम को बावुमा से काफी उम्मीदें होंगी जिन्हें 36 टेस्ट और दो वनडे खेलने का अनुभव है

संभावित टीमें इस प्रकार हैं:

इंडिया ए:

मनीष पांडे (कप्तान), रितुराज गायकवाड़, शुभमन गिल, अनमोलप्रीत सिंह, रिकी भुई, इशान किशन, विजय शंकर, शिवम दूबे, क्रुणाल पांड्या, अक्षर पटेल, युजवेंद्र चहल, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, खलील अहमद और नीतीश राणा।

दक्षिण अफ्रीका ए :

टेंबा बावुमा (कप्तान), मैथ्यू ब्रीत्जके, काइल वैरिन, जूनियर डाला, थ्युनिस डि ब्रुइन, ब्योर्न फोर्टुइन, ब्यूरन हेंड्रिक्स, रीजा हेंड्रिक्स, हेनरिक क्लासेन, जॉर्ज लिंडे, जानेमन मलान, मार्को जेनसन, एनरिच नोर्त्जे, सिनेथेंबा क्युशिले और लूथो सिपामला।