India beat South Africa by 7 runs in 3rd T20I to clinch series
भारतीय टीम ने 2-1 से टी20 सीरीज जीती © AFP

जेपी ड्युमिनी के शानदार अर्धशतक और क्रिस्चियन जोन्कर की धमाकेदार बल्लेबाजी के बावजूद दक्षिण अफ्रीका तीसरे और निर्णायक मैच में 7 रनों से हारकर भारत के खिलाफ टी20 सीरीज भी हार गया। 173 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका की तरफ से ड्युमिनी ने 55 और जोन्कर ने 49 रन बनाए, वहीं भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार से सबसे ज्यादा 2 विकेट लिए।

भारत के दिए 173 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका टीम का पहला विकेट तीसरे ही ओवर में गिर गया। तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के ओवर की पांचवीं गेंद पर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में रीजा हैंड्रिक्स शिखर धवन को आसान का कैच थमा बैठे। टीम इंडिया को दूसरी सफलता सुरेश रैना ने दिलाई। पार्ट टाइम गेंदबाज की भूमिका अदा करते हुए रैना ने दसवें ओवर में अपनी पहली ही गेंद पर डेविड मिलर को बड़ा शॉट खेलने की लिए उकसाया। लय में नहीं नजर आ रहे मिलर ने बल्ला जरूर घुमाया लेकिन बाउंड्री नहीं पार कर सके और अक्षर पटेल ने मिड विकेट पर एक शानदार कैच पकड़ा।

इस दौरान कप्तान जेपी ड्युमिनी एक छोर के लगातार बड़े शॉट लगाते रहे। मिलर के आउट होने के बाद ड्युमिनी ने हैनरिक क्लासेन के साथ साझेदारी बनाने की कोशिश की। 13वें ओवर में हार्दिक पांड्या ने क्लासेन को आउट कर भारत को बड़ी सफलता दिलाई। क्लासेन भी बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में भुवनेश्वर कुमार की तरफ खेल बैठे, हालांकि शॉट बहुत तेज था लेकिन भुवी ने गेंद हाथ से निकलने नहीं दी। क्लासेन के आउट होने के बाद सीरीज का पहला मैच खेल रहे क्रिस्चिनय जोन्कर क्रीज पर आए।

इसी बीच कप्तान ड्युमिनी ने टी20 करियर का 11वां अर्धशतक पूरा किया। 50 का आंकड़ा पार करते हुए ड्युमिनी अपना विकेट गंवा बैठे। 16वें ओवर में शार्दुल ठाकुर की गेंद पर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में ड्युमिनी बल्ले के किनारे से खेल बैठे और मिड विकेट पर रोहित शर्मा ने आसान सा कैच लिया। इसके बाद ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस क्रीज पर बल्लेबाजी करने आए। मॉरिस भी बिना कुछ खास किए केवल 4 रन बनाकर जसप्रीत बुमराह की गेंद पर बोल्ड हो गए। फरहान बेहारदीन ने जोन्कर के साथ मिलकर पारी को संभालने की कोशिश की लेकिन 17वें ओवर तक जरूरी रन रेट 18 तक पहुंच चुका था।

जोन्कर ने 18वें ओवर में शार्दुल ठाकुर के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाया। एक छक्के और तीन चौकों की मदद से ओवर में कुल 18 रन आए। वहीं दूसरे छोर पर बेहारदीन में भी अटैक करना शुरू किया। 19वें ओवर में बुमराह की पहली गेंद पर बेहारदीन ने चौका लगाया। लेकिन बुमराह के खिलाफ रन निकालना इतना आसान नहीं है लेकिन जोन्कर के सामने बुमराह की एक ना चली। ओवर की तीसरी गेंद पर जोन्कर ने शानदार छक्का जड़ दिया। चौथी गेंद पर रैना से मिस फील्ड हुई और बल्लेबाजों ने दो रन चुरा लिए। 19वें ओवर में कुल 16 रन आए। मैच का आखिरी ओवर भुवनेश्वर कुमार ने कराया। आखिरी ओवर में 19 रनों की जरूरत थी लेकिन जोन्कर और बेहारदीन आखिरी ओवर में केवल 11 रन ही बना सके और भारत ये मैच 7 रन से जीत गया।