India players’ participation in The Hundred doubtful: ECB chief executive Harrison

भारत और वेस्टइंडीज का इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के 100 गेंद के क्रिकेट प्रारूप ‘द हंड्रेड’ में खेलने की संभावना नहीं है। ईसीबी के मुख्य कार्यकारी टॉम हैरिसन ने शुक्रवार को यह बात कही।

‘द हंड्रेड’ जुलाई-अगस्त 2020 में शुरू किया जाएगा जिसमें आठ टीमें भाग लेंगी। इस मुकाबले में प्रत्येक पारी 100 गेंद तक चलेगी और प्रत्येक दस गेंदों के बाद छोर बदल दिया जाएगा। गेंदबाज लगातार पांच या दस गेंद कर सकते हैं। प्रत्येक गेंदबाज हर मैच में अधिकतम 20 गेंद कर सकता है।

पढ़ें:- ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज में भारत का पलड़ा भारी

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के अनुसार हैरिसन ने कहा, ‘‘मैं भारतीय खिलाड़ियों की भागीदारी का वादा नहीं कर सकता हूं। यह एक राजनीतिक बातचीत है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह मुश्किल बातचीत है। यह केवल यहां तक सीमित नहीं है कि ईसीबी और द हंड्रेड भारतीय खिलाड़ियों को शामिल करने का इच्छुक है। स्पष्ट तौर पर यह व्यापक चर्चा है।’’

भारतीय खिलाड़ी इंग्लिश काउंटी क्रिकेट में भाग लेते रहे हैं लेकिन बीसीसीआई उन्हें विदेशों के किसी टी20 लीग में खेलने की अनुमति नहीं देता और वे केवल आईपीएल में खेलते हैं।

द हंड्रेड और कैरेबियाई प्रीमियर लीग (सीपीएल) की तिथियों में टकराव हो सकता है। इसके अलावा इस दौरान वेस्टइंडीज को कुछ अंतरराष्ट्रीय मैचों की मेजबानी भी करनी है जिससे उसका इस टूर्नामेंट में खेलना संदिग्ध है।