India vs Australia 2019, 3rd ODI, melbourne oneday LIVE UPDATE
India celebrate with the series trophy at the MCG. © AFP

महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव की 121 रनों की धमाकेदार साझेदारी के दम पर टीम इंडिया ने मेलबर्न वनडे में ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया। ऑस्ट्रेलिया के दिए 232 रनों के लक्ष्य को टीम इंडिया ने चार गेंद बाकी रहते हासिल कर लिया।

भारत की जीत के नायक रहे महेंद्र सिंह धोनी, जिन्होंने 114 गेंदो पर 87 रनों की पारी खेली। धोनी ने इस पारी में कुल 6 चौके लगाए लेकिन एक भी छक्का नहीं लगाया। टीम इंडिया को जीत तक पहुंचाने में जाधव ने धोनी का पूरा साथ दिया। पूर्व कप्तान के साथ शतकीय साझेदारी बनाकर जाधव ने 57 गेंदो पर 61 रन जड़े।


भारतीय पारी: आखिरी ओवर में जीत के लिए केवल एक रन की जरूरत थी, जाधव ने स्टोइनिस की दूसरी गेंद पर चौका लगाकर भारत को 7 विकेट से जीत दिलाई। इसी के साथ टीम इंडिया ने 2-1 से वनडे सीरीज पर कब्जा किया।

49वां ओवर कप्तान फिंच से सिडल को दिया। ओवर की दूसरी गेंद पर जाधवन ने ऑफसाइड की तरफ चौका जड़ा। पांचवीं गेंद पर धोनी ने लॉन्ग ऑफ की तरफ शानदार चौका लगाया। ओवर में कुल 13 रन आए।

48वें ओवर में स्टोइनिस की पहली गेंद पर धोनी ने तेज शॉट लगाया लेकिन गेंद फील्डर के थोड़ा आगे गिरी। रन लेने की कोशिश में जाधव रन आउट होने से बाल बाल बचे।ओवर की आखिरी गेंद पर जाधव के चौके के साथ कुल 16 रन आए। साथ ही जाधव ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया।

47वें ओवर में झाय रिचर्डसन अटैक में आए। ओवर में केवल 6 रन देकर रिचर्डसन ने अपना स्पेल खत्म किया।

46वें ओवर में पीटर सिडल अटैक में वापस आए। उनके लिए फील्डिंग में काफी बदलाव किए गए। डीप स्क्वायर लेग, डीप मिड विकेट और लॉन्ग ऑन लगाया। एक वाइड के बाद ओवर की पहली गेंद पर जाधव ने शानदार चौका जड़ा दिया। जिसके बाद सिडल ने एक और वाइड गेंद डाली। ओवर में कुल 11 रन आए।

45वें ओवर में स्टोइनस की चौथी गेंद पर धोनी ने चौका लगाया। लंबे समय बाद आई इस बाउंड्री से ओवर में 8 रन आ गए। अगले 5 ओवर में भारत को 44 रनों की जरूरत है।

40 ओवर के बाद भारत को जीत के लिए 60 गेंदो पर 66 रनों की जरूरत है। 42वें ओवर में झाय रिचर्डसन की तीसरी गेंद पर धोनी विकेट के सामने बीट हुए। फील्ड अंपायर के नॉट आउट देने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने डीआरएस का इस्तेमाल किया। रीप्ले में गेंद विकेट को छोड़कर जाती दिखी। अंपायर का फैसला बरकरार, धोनी बल्लेबाजी जारी रखेंगे।

38वें ओवर में धोनी ने अपना 70वां वनडे अर्धशतक पूरा किया। इस सीरीज में ये धोनी का लगातार तीसरा अर्धशतक है। धोनी ने कोई जश्न नहीं मनाया, ना ही अपना बैट हवा में उठाया। केवल स्कोरकार्ड की तरफ देखा, पूर्व कप्तान जानते हैं काम अभी पूरा नहीं हुआ है।

तीसरा विकेट: 30वें ओवर में झाय रिचर्डसन ने भारत को तगड़ा झटका दिया। ओवर की आखिरी गेंद पर कप्तान कोहली विकेटकीपर एलेक्स कैरे के हाथों कैच आउट हुए। कप्तान 46 रन बनाकर पवेलियन लौटे, कोहली अपनी आप से काफी नाखुश दिख रहे हैं।

29वें ओवर में पीटर सिडल की चौथी गेंद पर थर्ड मैन की तरफ चौका लगाकर धोनी ने कोहली के साथ अपनी साझेदारी 50 रनों की की।

तीन विकेट गिरने के बाद धोनी और कोहली भारतीय पारी को संभाले हुए हैं। दोनों मिलकर एक को दो और दो को तीन रनों में बदल रहे हैं। हालांकि इस दौरान 21वें ओवर की तीसरी गेंद पर कोहली रन आउट होते होते बचे। वहीं 22वें ओवर में एडेम जम्पा के खिलाफ धोनी रन आउट होने से बचे।

चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए महेंद्र सिंह धोनी को मैक्सवेल ने शून्य पर ड्रॉप किया। धोनी ने प्वाइंट की तरफ कट लगाने की कोशिश की और गेंद सीधा मैक्सवेल की तरफ गई लेकिन वो कैच नहीं पकड़ पाए।

दूसरा विकेट: 15 ओवर तक टीम इंडिया ने एक विकेट के नुकसान पर 54 रन बनाए लिए। 17वें ओवर में अटैक में आए स्टोइनिस ने अपने पहले ही ओवर में सफलता हासिल की। ओवर की दूसरी गेंद पर शिखर धवन 23 रन बनाकर गेंदबाज के हाथों ही कैच आउट हुए।

पहला विकेट: 5 ओवर के बाद रोहित-धवन ने बिना किसी नुकसान के 10 रन जोड़ लिए। छठें ओवर में भारत को पहला झटका लगा। पीटर सिडल की आखिरी गेंद पर रोहित लाइन के अक्रॉस खेलने की कोशिश में स्लिप पर शॉन मार्श को कैच दे बैठे। उप कप्तान केवल 9 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

दूसरा ओवर कराने के लिए पीटर सिडल अटैक में आए। ओवर की दूसरी गेंद पर अंपायर ने रोहित शर्मा के खिलाफ एलबीडब्ल्यू की जोरदार अपील लेकिन फील्ड अंपायर ने नॉट आउट दिया। ऑस्ट्रेलिया टीम ने रोहित के खिलाफ डीआरएस का फैसला किया। रीप्ले में अंपायर्स कॉल का फैसला हुआ और रोहित को जीवनदान मिला।

ऑस्ट्रेलियाई पारी खत्म होने के बाद हल्की बारिश हुई और मैदान को कवर्स से ढक दिया गया। लेकिन जल्द ही बारिश रुक भी गई और भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन मैदान पर आए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से अटैक की शुरुआत झाय रिचर्डसन करेंगे।


ऑस्ट्रेलियाई पारी रिपोर्ट: भारतीय स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल के शानदार छह विकेट हॉल के दम पर टीम इंडिया ने मेलबर्न वनडे में ऑस्ट्रेलियाई टीम को 230 पर ऑलआउट किया। चहल के अलावा भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी ने 2-2 विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पीटर हैंड्सकॉम्ब ने सबसे ज्यादा 58 रन बनाए। टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 231 रनों का लक्ष्य है।


49वें ओवर में बिली स्टेनलेक को शून्य पर बोल्ड कर मोहम्मद शमी ने ऑस्ट्रेलियाई पारी को 230 पर समेटा।

नौवां विकेट:48वें ओवर में चहल को छठां विकेट मिला। ओवर की चौथी गेंद पर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में एडम जम्पा विजय शंकर को आसान सा कैच थमा बैठे। ऑस्ट्रेलिया ने अपना नौवां विकेट खो दिया।

आठवां विकेट: 46वें ओवर की आखिरी गेंद पर अर्धशतक बना चुके पीटर हैंड्सकॉम्ब को आउट कर चहल ने अपना पांच विकेट हॉल पूरा किया। बल्लेबाज ने तुरंत डीआरएस लिया लेकिन रीप्ले में भी वो आउट ही रहे। हैड्सक़ॉम्ब 58 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेलकर लौटे।

सातवां विकेट: 44वें ओवर में युजवेंद्र चहल ने अपना चौथा विकेट लिया। ओवर की तीसरी गेंद पर चहल की तेज गेंद पर झाय रिचर्डसन ने हवा ने हवा में शॉट लगाया और शॉर्ट मिड विकेट पर केदार जाधव ने कैच लपका।

42वें ओवर में चहल की पांचवीं गेंद पर एक रन के साथ पीटर हैंड्सकॉम्ब ने अपना अर्धशतक पूरा किया। हैंड्सकॉम्ब ने 57 गेंदो पर इस सीरीज में अपना दूसरा अर्धशतक जड़ा।

छठां विकेट: 35वें ओवर में शमी ने खतरनाक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल को 26 के स्कोर पर चलता किया। एक चौका लगा चुके मैक्सवेल ने ओवर की पांचवीं गेंद पर एक और बड़ा शॉट खेलने की कोशिश की लेकिन शमी की शॉर्ट गेंद पर बल्ले के ऊपरी किनारे से खेल बैठे। भुवनेश्वर कुमार ने फाइन लेग से करीबन 10 मीटर की दौड़ लगाकर शानदार कैच पकड़ा और मैक्सवेल को पवेलियन भेजा।

32वें ओवर में पीटर हैड्सकॉम्ब ने मिड विकेट की दिशा में हवाई शॉट लगाया और कैच लेने के लिए कप्तान कोहली के साथ विजय शंकर और लॉन्ग ऑन का फील्डर भी दौड़ पड़ा। लेकिन गेंद शंकर के हाथ से थोड़ा आगे गिर गई।

पांचवां विकेट: 30वें ओवर में युजवेंद्र चहल ने अपनी तीसरा विकेट लेकर भारत को पांचवीं सफलता दिलाई। ओवर की तीसरी गेंद पर मार्कस स्टोनिस ने लेग साइड की तरफ शॉट खेलने की कोशिश की लेकिन बल्ले का किनारा लगा बैठे और स्लिप रोहित शर्मा ने एक हाथ से शानदार कैच पकड़ा।

चौथा विकेट: 24वें ओवर में ही चहल ने अपना दूसरा विकेट भी लिया। ओवर की चौथी गेंद ख्वाजा गेंदबाज को बेहद आसान कैच देकर 34 के स्कोर पर पवेलियन लौटे।

तीसरा विकेट: 24वें ओवर में युजवेंद्र चहल पहली बार अटैक में आए। और ओवर की दूसरी गेंद पर भारत को सफलता मिली। दूसरी गेंद पर आगे बढ़कर शॉट लगाने की कोशिश में मार्श चूके लेकिन धोनी नहीं। एक बार फिर अपनी फुर्ती दिखाते हुए धोनी ने सेट ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज को स्टंप आउट किया।

20वें ओवर में केदार जाधव की पहली गेंद पर शॉन मार्श ने शानदर चौका लगाया। चौथी गेंद जाधव ने एकदम मार्श के पाले में डाली और बल्लेबाज ने डीप मिड विकेट पर एक और शानदार चौका जड़ा। ओवर में कुल 15 रन आए। पूरी वनडे सीरीज में मार्श का प्रदर्शन शानदर रहा है। ऑस्ट्रेलिया को आज भी उनसे एक बड़ी पारी की उम्मीद होगी।

17 ओवर के बाद ड्रिंक्स ब्रेक लिया गया। ऑस्ट्रेलिया ने 2 विकेट लपर 55 रन बना लिए हैं और भारत की ओर से केवल भुवनेश्वर कुमार को सफलता मिली है।

दूसरा विकेट: नौवें ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। ओवर की आखिरी गेंद पर विपक्षी कप्तान फिंच एलबीडब्ल्यू आउट हुए। लेकिन इससे पहले मैदान पर थोड़ी गहमागहमी हुई। आखिरी गेंद करने आए भुवनेश्वर ने अंपायर के काफी पीछे से ही गेंद डाल दी, जिस वजह से फिंच अपने स्टांस से हट गए। अंपायर ने इसे डेड बॉल करार दिया लेकिन भुवी इससे खुश नहीं थे। धोनी गेंदबाज से बात करने आगे आए, जिसके बाद भुवनेश्वर शांत हुए और फिर से गेंद डाली। जिस पर उन्हें दूसरी सफलता मिली।

पहला विकेट: बारिश के बाद खेल शुरू होते ही अपने दूसरे ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने भारत को सफलता दिलाई। तीसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर एलेक्स कैरे बैकफुट से खेलते हुए छोटी गेंद पर बल्ले का किनारा लगा बैठे और कप्तान कोहली ने स्लिप पर अच्छा कैच पकड़ा।

बारिश के चलते मेलबर्न वनडे निश्चित किए गए समय से दस मिनट देर से शुरु हुआ। पारी की शुरुआत करने आए एलेक्स कैरे और एरोन फिंच भुवनेश्वर कुमार के ओवर के ओवर की दो ही गेंदो का सामना कर पाए थे और बारिश एक बार फिर तेज हो गई। सभी खिलाड़ी मैदान से बाहर चले गए और पिच को कवर्स से ढक दिया गया।


भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला मेलबर्न में खेला जाना है। भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया है। भारत की तरफ से विजय शंकर आज के मैच में अपना डेब्यू करने जा रहे है।

भारतीय टीम में तीन बदलाव किए गए हैं। अम्बाती रायडू की जगह केदार जाधव को शामिल किया गया है। कुलदीप यादव को बाहर बिठाकर युजवेंद्र चहल को प्लेइंग इलेवन में शमिल किया है जबकि विजय शंकर को मोहम्मद सिराज की टीम में जगह दी गई है।

दोनों टीमों के लिए आज का मुकाबला फाइनल की तरह है। भारत और ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज में एक एक मुकाबला जीता है। आज के मुकाबले में जो भी टीम बाजी मारेगी सीरीज उसके नाम होगी।

ऑस्ट्रेलिया की टीम ने सिडनी के मुकाबले में भारत को 34 रन से हराया था जबकि एडिलेड में खेले गए मैच भारतीय टीम ने 6 विकेट से जीत दर्ज की थी। इस मुकाबले को जीतने के साथ ही भारत ने सीरीज जीतने की उम्मीद बनाए रखी थी।

भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया था। यह पहला मौका था जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में कोई टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाबी हासिल की थी। दोनों देशों के बीच खेल गए टी20 सीरीज का कोई नतीजा नहीं निकला था।