live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 4th test match live, india vs england 4th test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live  Mumbai
विराट कोहली वानखड़े के मैदान पर अब तक एक भी टेस्ट शतक नहीं जमा पाए हैं© IANS

भारतीय टीम 8 दिसंबर से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में इंग्लैंड के साथ चौथा टेस्ट मैच खेलने उतरेगी तो एक बार फिर से सारी नजरें भारतीय कप्तान विराट कोहली पर होंगी। इस सीरीज में रनों का अंबार लगा रहे कोहली वानखेड़े में अपने शतकों के सूखे को खत्म करना चाहेंगे। बल्लेबाजों के लिए जन्नत मानी जानें वाली वानखेड़े की विकेट पर कोहली अभी तक एक भी शतक नहीं बना पाए हैं। टेस्ट क्रिकेट में इस मैदान पर उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 63 रन है, जो उनकी प्रतिभा के हिसाब से बहुत कम है। विराट चौथे टेस्ट में इस मैदान पर अपने शतकों का खाता जरूर खेलना चाहेंगे।

वानखेड़े के मैदान कोहली के लिए कुछ खास नहीं रहा है। कोहली ने यहां खेले अपने 3 टेस्ट मैचों की 5 पारियों में सिर्फ 198 रन बनाए हैं। इस मैदान पर उनका औसत 39.60 रहा है। कोहली ने वानखेड़े में 3 बार 50 का स्कोर पार किया है, लेकिन वह किसी भी पारी को शतक में बदलने में तब्दील नहीं कर सके हैं। अगर इस मैदान पर सबसे सफल भारतीय बल्लेबाज की बात करें तो सुनील गावस्कर टॉप पर हैं। इस मैदान पर खेले 11 टेस्ट मैचों में गावस्कर ने 1122 रन बनाए हैं। इसके बाद क्रमशः सचिन तेंदुलकर का नंबर आता है। सचिन ने इस मैदान पर 11 टेस्ट में 921 रन बनाए हैं। [Also Read: इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में बिना किसी अभ्यास मैच के उतरेंगे महेंद्र सिंह धोनी]

अगर मौजूदा भारतीय बल्लेबाजों की बात करें तो चेतेश्वर पुजारा के लिए यह मैदान लकी रहा है। उन्होंने इस मैदान पर खेली 3 पारियों में 2 बार शतक जमाया है। पुजारा ने 2 टेस्ट मैचों में 84.66 की शानदार औसत से 2 शतकों समेत 254 रन बनाए हैं। हालांकि क्रिकेट के अन्य प्रारूपों में यह मैदान उतना अनलकी नहीं रहा है। इस साल उन्होंने टी20 विश्व कप 2016 में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ इसी मैदान पर 89 रनों की नाबाद पारी खेली थी। अब 2016 में कोहली के प्रदर्शन को देखते हुए किसी को शक नहीं की वह इस मैदान पर अपने शतकों के सूखे को खत्म कर सकते हैं।