IPL 2019 Final: Mumbai Indians registers 1 run win against Chennai Super Kings
Lasith Malinga @ BCCI

सांसे रोक देने वाले आईपीएल 2019 के खिताबी मुकाबले में मुंबई ने चेन्‍नई पर एक रन से जीत दर्ज की। शेन वॉटसन 59 गेंद पर 80 रन की पारी खेलकर मैच को अंतिम ओवर तक ले आए, लेकिन लसिथ मलिंगा के आखिरी ओवर में वॉटसन के रन आउट होने के बाद मुंबई ने खिताब पर कब्‍जा किया।

इस जीत के साथ ही मुंबई ने इतिहास रच दिया है। वो सर्वाधिक चार बार आईपीएल जीतने वाली फ्रेंचाइजी बन गई है। इस मैच से पहले तक मुंबई और चेन्‍नई ने 3-3 बार आईपीएल खिताब पर कब्‍जा किया थ।

पहली पारी की रिपोर्ट पढ़ने के लिए क्लिक करें

आखिरी ओवर का रोमांच

आखिरी ओवर में चेन्‍नई को जीत के लिए नौ रन की दरकार थी। पहली तीन गेंदों पर वॉटसन और रवींद्र जडेजा ने मिलकर चार रन बनाए। चौथी गेंद पर वॉटसन दो रन लेने के प्रयास में रन आउट हो गए। अबतक मैच में मजबूत नजर आ रही चेन्‍नई के लिए ये बड़ा झटका था क्‍योंकि यहां से चेन्‍नई को जीत के लिए दो गेंद पर चार रन चाहिए थे और कोई स्‍पेशलिस्‍ट बल्‍लेबाज मैदान पर मौजूद नहीं था। जिसके बाद फुल टॉस गेंद पर शार्दुल ठाकुर ने स्‍क्‍वेयर लेग की दिशा में दो रन निकाले। चेन्‍नई को जिसके बाद आखिरी गेंद पर जीत के लिए दो रन बाकी रह गए थे, लेकिन मलिंगा ने ठाकुर को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट कर जीत के साथ मैच का अंत किया।

पढ़ें:- IPL Final: वाइड नहीं देने पर पोलार्ड ने जताई नाराजगी तो अंपायरों ने लगाई फटकार

चेन्‍नई की सधी शुरुआत

पहले बल्‍लेबाजी करते हुए मुंबई की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 145/8 रन बनाए। लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान चेन्‍नई 148/7 रन ही बना पाई। लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान फाफ डु प्‍लेसिस और शेन वॉटसन ने चेन्‍नई को सधी हुई शुरुआत दिलाई। दोनों ने साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 33 रन जोड़े। चौथे ओवर की आखिरी गेंद पर क्रुणाल पांड्या ने डु प्‍लेसिस का विकेट निकाला। आगे बढ़कर खेलने का प्रयास कर रहे डु प्‍लेसिस को क्विंटन डी कॉक ने स्‍टंप आउट किया। वो 13 गेंद पर 26 रन बनाकर आउट हुए।

पढ़ें:- होटल स्‍टाफ पर भड़के भज्‍जी, ट्विटर पर निकाला गुस्‍सा

तीसरे नंबर पर खेलने सुरेश रैना ने जिसके बाद वॉटसन के साथ मिलकर 36 रन की साझेदारी बनाई। इसमें रैना का योगदान महज आठ रन का था। 10वें ओवर में राहुल चाहर ने रैना को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। नए बल्‍लेबाज अंबाती रायडू भी महज चार गेंद खेलकर एक रन बनाने के बाद आउट हो गए। जसप्रीत बुमराह ने उन्‍हें डी कॉक के हाथों कैच आउट कराया।

पढ़ें:- फैन्‍स में IPL संक्रमण की तरह फैल रहा है: सचिन तेंदुलकर

वॉटसन-ब्रावो ने संभाली पारी

चेन्‍नई के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी बदकिस्‍मत रहे। महज दो रन के स्‍कोर पर इशान किशन के डायरेक्‍ट थ्रो ने उन्‍हें डगआउट का रास्‍ता दिखाया। वॉटसन जिसके बाद ड्वेन ब्रावो के साथ मिलकर मैच को अंत तक लेकर गए। दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिए 55 रन की साझेदारी बनी। 15 गेंद पर 15 रन बनाने के बाद ब्रावो गेंदबाज बुमराह का शिकार बने। वाे  19वें ओवर में डी कॉक के हाथों कैच आउट कराया। जसप्रीत बुमराह को दो विकेट मिले जबकि क्रुणाल पांड्या, लसिथ मलिंगा और राहुल चाहर ने एक-एक विकेट निकाला।