Jason Behrendorff insists on more opportunities with Mitchell Starc
Jason Behrendorff and Mitchell Starc

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जेसन बेहरेनडोर्फ ने मंगलवार को इंग्लैंड के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया और टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई। बेहरेनडॉर्फ को उनके और मिशेल स्टार्क जैसे बायें हाथ के तेज गेंदबाजों को ऑस्ट्रेलिया की प्लेइंग इलेवन में एक साथ अधिक मौका मिलने में कोई दिक्कत नहीं नजर नहीं आती।

बेहरेनडोर्फ और स्टार्क ने इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप मैच में मंगलवार को मिलकर नौ विकेट चटकाकर ऑस्ट्रेलिया की जीत में अहम भूमिका निभाई जिसके बाद इस तेज गेंदबाज ने यह बात कही।

पढ़ें: इंग्‍लैंड को 64 रन से हरा ऑस्‍ट्रेलिया सेमीफाइनल में पहुंचा

बायें हाथ के तेज गेंदबाजों के खिलाफ इंग्लैंड के जूझने के कारण ऑस्ट्रेलिया की टीम में बेहरेनडोर्फ को जगह दी गई थी और अपने सिर्फ आठवें वनडे मैच में खेलते हुए उन्होंने 44 रन देकर पांच विकेट चटकाए। स्टार्क ने भी 43 रन देकर चार विकेट हासिल किए जिससे 286 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम 221 रन पर ढेर हो गई।

यह हालांकि सिर्फ दूसरा वनडे मैच है जिसमें बेहरेनडोर्फ और स्टार्क ने एक साथ गेंदबाजी की है और वह स्टार्क के साथ नई गेंद की अपनी जोड़ी को आगे बढ़ाना चाहते हैं। बेहरेनडोर्फ ने कहा, ‘‘हमें अधिकांश समय ऐसा देखने को नहीं मिलता लेकिन मुझे कोई कारण नजर नहीं आता कि हम एक साथ नहीं खेल सकते।’’

पढ़ें: सेमीफाइनल में पहुंच फिंच बोले-पहला मिशन पूरा हुआ

उन्होंने कहा, ‘‘कभी कभी हम दायें हाथ के तीन तेज गेंदबाजों के साथ खेलते हैं तो फिर हम दो बायें हाथ के तेज गेंदबाजों के साथ क्यों नहीं खेल सकते। टीम में मिशेल और मेरी भूमिका अलग है इसलिए यह काफी अच्छा है कि हम दोनों जोड़ी बनाएं। हमने सोचा कि यह इंग्लैंड के खिलाफ अच्छा काम करेगा और फिर हम दोनों ने मिलकर नौ विकेट चटकाए इसलिए इसने काफी अच्छा काम किया।’’

बेहरेनडोर्फ को उम्मीद है कि उन्हें स्टार्क के साथ अधिक खेलने का मौका मिलेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘मिशेल और मैं टीम में एक साथ खेलकर बेहद खुश हैं और उम्मीद करते हैं कि हमें अधिक मौकों पर दो बायें हाथ के तेज गेंदबाजों को गेंदबाजी करते हुए देखने का मौका मिलेगा। यह शानदार होगा।’’