पिछले एक साल से भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) का कहना है कि वो प्लेइंग इलेवन से बाहर रहकर निराश जरूर है लेकिन वो मौका मिलने पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने को तैयार हैं।

हालिया इंटरव्यू में कुलदीप ने कहा, “मैं भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बनने से निराश हूं क्योंकि मैं प्रदर्शन करना चाहता था और टीम की जीत में योगदान देना चाहता था। ये चीजें होती हैं, हां आप दुखी हैं, लेकिन साथ ही आप अगले मौके पर प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं।”

भारत के इंग्लैंड दौरे पर नहीं चुने गए कुलदीप को उम्मीद है कि श्रीलंका के खिलाफ होने वाली सीमित ओवर फॉर्मेट सीरीज में उन्हें मौका मिलेगा। चूंकि जुलाई में होने वाली इस सीरीज के दौरान कई सीनियर खिलाड़ी को आराम दिया जाएगा, ऐसे में कुलदीप स्क्वाड में जगह बना सकते हैं।

कुलदीप ने कहा, “मैं वहां (इंग्लैंड) नहीं गया, इसलिए उम्मीद है कि मैं श्रीलंका जाऊंगा और वहां प्रदर्शन करने का मौका मिलेगा। क्रिकेट होता रहना चाहिए, हर खिलाड़ी दुखी होता है जब वो टीम में नहीं होता है, हर कोई टीम में रहना चाहता है लेकिन कभी-कभी स्थिति ऐसी है कि आप टीम का हिस्सा नहीं हैं।”

26 साल के स्पिनर ने भारत के लिए टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच आखिरी बार जनवरी 2020 में खेला था, जो इंदौर में श्रीलंका के खिलाफ ही था। वहीं वनडे फॉर्मेट में कुलदीप आखिरी बार मार्च, 2021 में इंग्लैंड के खिलाफ मैच में नजर आए थे।