Michael Hussey: There will be a lot of thinking about the best combination
माइकल हसी (Getty images)

पंजाब के खिलाफ मैच से पहले चेन्नई के बल्लेबाजी कोच माइकल हसी ने ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो की चोट की पुष्टि की। हसी ने साफ बताया कि ब्रावो हैमस्ट्रिंग इंजरी से परेशान हैं और इसके चलते वो अगले दो हफ्तों तक टूर्नामेंट से बाहर रहेंगे। साथ ही हसी ने ये भी कहा कि ब्रावो के बिना सही टीम कॉम्बिनेशन ढूंढना बेहद मुश्किल होगा।

18वें लीग मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हसी ने कहा, “जाहिर है कि वो हमारी टीम को काफी संतुलन देता है और वो एक क्वालिटी प्लेयर है इसलिए उसके जाने से टीम में बदलाव करने पड़ेंगे। लेकिन मुझे यकीन है कि हम एक मजबूत टीम कॉम्बिनेशन तैयार कर पाएंगे और हां, ये हमारे लिए बड़ा नुकसान है लेकिन हमने पहले भी इस तरह की चुनौतियों का सामना किया है और सफल हुए हैं। हमें उम्मीद है कि हम फिर से वही कर पाएंगे।”

ये भी पढ़ें: कोई मैदान मेरे लिए बड़ा नहीं, मुझे अपनी ताकत पर भरोसा: आंद्रे रसेल

ब्रावो चेन्नई की प्लेइंग इलेवन में निचले क्रम के बल्लेबाज के साथ साथ डेथ ओवर गेंदबाज की भूमिका भी निभाते हैं। उनके ना रहने से चेन्नई को अब एक नए डेथ ओवर गेंदबाज की जरूरत पड़ेगी। विकल्पों के बारे में बात करते हुए हसी ने स्कॉट कुगेलिन, शार्दुल ठाकुर और मोहित शर्मा का नाम लिया। उन्होंने कहा, “हां, स्कॉट ये कमी पूरी कर सकता है। मुझे यकीन है कि एमएस (धोनी) और (स्टीफेन) फ्लेमिंग स्कॉट की डेथ ओवर गेंदबाजी की क्षमता का आंकलन कर रहे होंगे। हमारे पास शार्दुल है जो डेथ ओवर गेंदबाजी कर चुका है और मोहित भी डेथ ओवर में गेंदबाजी कर सकता है।”

ये भी पढ़ें: दिनेश कार्तिक ने आंद्रे रसेल की तारीफ की, गेंदबाजों को मिली चेतावनी

हसी ने आगे कहा, “बात स्थितियों को समझने और ये देखने की है कि कौन सा गेंदबाज आखिरी के ओवरों के लिए उपयुक्त होगा। अगर ये ज्यादा टर्न वाली पिच है तो शायद कोई स्पिन गेंदबाज भी आखिरी ओवरों में गेंदबाजी कर सकता है। अपने सर्वश्रेष्ठ कॉम्बिनेशन को चुनने के लिए हमे काफी सोच-विचार करना होगा। ये एक अहम एरिया है और हमने मुंबई के खिलाफ मैच में यहां अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था। उन्होंने आखिरी के 2-3 ओवरों में काफी रन बनाए थे। ये ऐसा एरिया है जहां हमें ध्यान देने और अपनी योजनाओं को लागू करने की जरूरत है- ये खेल का एक अहम पहलू है।”