पृथ्वी शॉ और श्रेयस अय्यर की बेहतरीन बल्लेबाजी से मुंबई फाइनल में।
पृथ्वी शॉ और श्रेयस अय्यर की बेहतरीन बल्लेबाजी से मुंबई फाइनल में।

रणजी ट्रॉफी 2016-17 का दूसरा क्वार्टर फाइनल मैच भी आज खत्म हो गया। राजकोट में मुंबई और तमिलनाडू के बीच खेले गए इस मैच में मुंबई टीम ने छह विकेट से जीत हासिल कर फाइनल में जगह बना ली है। अब मुंबई 11 जनवरी को गुजरात के खिलाफ रणजी ट्रॉफी 2016-17 की खिताबी जंग लड़ेगी। गुजरात पहले ही झारखंड को हराकर फाइनल में पहुंच चुकी है। मुंबई टीम को मैच जिताने का श्रेय जाता है युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को, जिन्होंने क्वार्टर फाइनल में चयन के बाद आज पहली पार कोई बड़ी पारी खेली है। सेमीफाइनल मैच होने से इस पारी का खत्म ज्यादा बढ़ गया है। ये भी पढ़ें:रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल मैच का लाइव ब्लॉग

मुंबई बनाम तमिलनाडू सेमीफाइनल मैच के पहले दिन तमिलनाडू ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का चयन किया। तमिलनाडू ने पहले खेलते हुए 305 रन बनाए। तमिलनाडू की ओर से बाबा इंद्रजीत ने 64 रन बनाए साथ ही विजय शंकर ने भी अर्धशतक जड़ा। अन्य कोई बल्लेबाज कोई बड़ी पारी नहीं खेल सके। वहीं मजबूत बल्लेबाजी क्रम वाली मुंबई टीम के लिए यह स्कोर बड़ा नहीं था। मुंबई ने कप्तान आदित्य तरे के 83 रनों की मदद से 411 रन बनाकर 106 रन की बढ़त हासिल कर ली। दूसरी पारी में तमिलनाडू की ओर से अभिनव मुकुंद और बाबा इंद्रजीत ने शतकीय पारियां खेली। चौथे दिन का खेल खत्म होने तक तमिलनाडू ने 356 के स्कोर पर 250 की बढ़त लेकर पारी घोषित कर दी। आज का खेल शुरु होते ही मुंबई की पारी ने तेजी पकड़ ली। अब तक कुछ खास कमाल न कर पाए पृथ्वी शॉ ने आज के मैच में अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया। उन्होंने 175 गेंदों पर 120 रन जड़े और मुंबई की जीत सुनिश्चित की। हालांकि वह अपनी टीम के लिए विनिंग शॉट नहीं खेल सके। यह काम पूरा किया कप्तान आदित्य तरे ने और मुंबई को फाइनल में पहुंचाया। ये भी पढ़ें:महेंद्र सिंह धोनी के बिना कैसा होगा भारतीय क्रिकेट

अब 10 जनवरी को इंदौर के होल्कर स्टेडियम में गुजरात और मुंबई टीमें रणजी ट्रॉफी जीतने के लिए एक दूसरे का सामना करेंगी। गुजरात टीम में जहां प्रियांक पांचाल जैसा बल्लेबाज और जसप्रीत बुमराहआरपी सिंह जैसे गेंदबाज है वहीं मुंबई में आदित्य तरे, सिद्धेश लाड, पृथ्वी शॉ जैसे खिलाड़ी हैं। दोनों टीमों की खिताबी भिड़ंत देखने लायक होगी।