Ranji Trophy 2018-19, Elite A & B, Round 5, Day 1
Piyush-CHawla © PTI (file image)

गुजरात ने पीयूष चावला के नाबाद शतक और कप्तान प्रियांक पंचाल  के अर्धशतक की बदौलत रणजी ट्रॉफी ग्रुप ए एलीट मैच के शुरुआती दिन रेलवे के खिलाफ स्टंप तक आठ विकेट पर 340 रन का शानदार स्कोर खड़ा कर लिया।

दिन का खेल समाप्त होने तक पीयूष 109 रन बनाकर क्रीज पर डटे थे जबकि एआर नागवास्वाला दूसरे छोर पर 11 रन बनाकर खेल रहे थे। पीयूष ने 137 गेंद का सामना कर चुके हैं। उन्होंने 12 चौके और तीन छक्के जड़े थे।

पढ़ें: यासिर का रिकॉर्ड, विलियम्‍सन-निकोल्स के बूते न्यूजीलैंड अच्छी स्थिति में

रेलवे के लिए अमित मिश्रा ने चार खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा जबकि अनुरीत सिंह और अविनाश यादव को दो दो विकेट मिले।

गुगाले का शतक, महाराष्ट्र के तीन विकेट पर 298 रन

सलामी बल्लेबाज स्वप्निल गुगाले की अगुवाई में शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के उपयोगी योगदान से महाराष्ट्र ने मुंबई के खिलाफ एलीट ग्रुप ए मैच में अच्छी शुरुआत करते हुए पहले दिन तीन विकेट पर 298 रन बनाए।

गुगाले ने 191 गेंदों पर 15 चौकों की मदद से 101 रन बनाए। उन्होंने चिराग खुराना (71) के साथ पहले विकेट के लिए 146 और जय पांडे (नाबाद 68) के साथ दूसरे विकेट के लिये 52 रन की दो उपयोगी साझेदारियां की।

मुंबई की ओर से शुभम रंजने ने दो और शिवम दुबे ने एक विकेट लिया है।

बड़ौदा को पहली पारी में बढ़त

बाएं हाथ के स्पिनर स्वप्निल सिंह के पांच विकेट के दम पर बड़ौदा ने छत्तीसगढ़ को 129 रन पर आउट करके एलीट ग्रुप ए मैच के पहले दिन सात विकेट पर 165 रन बनाकर पहली पारी में बढ़त हासिल की।

स्वप्निल ने 23 रन देकर पांच जबकि शोएब ताइ ने 36 रन देकर तीन विकेट लिए और छत्तीसगढ़ को सस्ते में समेटने में अहम भूमिका निभाई। छत्तीसगढ़ की तरफ से कप्तान हरप्रीत सिंह ने 37 और सलामी बल्लेबाज अवनीश धालिवाल ने 35 रन बनाए।

शाह शतक से चूके, सौराष्ट्र के नौ विकेट पर 288 रन

प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर चुके जयदेव शाह तीन रन से शतक से चूक गए लेकिन उनकी 97 रन की पारी की बदौलत सौराष्ट्र की टीम कर्नाटक के खिलाफ ग्रुप ए मैच में खराब शुरुआत से उबरते हुए पहले दिन नौ विकेट पर 288 रन बनाए।

सौराष्ट्र ने एक समय 119 रन पर पांच विकेट गंवा दिए थे लेकिन शाह ने नौ चौकों और तीन छक्कों की मदद से 159 गेंद में 97 रन बनाकर पारी को संभाला। उन्होंने प्रेरक मांकड़ (37) के साथ छठे विकेट के लिए 73 रन की साझेदारी की।

पढ़ें: पारस डोगरा ने रणजी ट्रॉफी के इतिहास में बनाया सर्वाधिक दाेहरे शतक का रिकॉर्ड

मौजूदा मैच के बाद संन्यास की घोषणा कर चुके शाह काफी अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं। उन्होंने लगातार तीसरी पारी में 50 से अधिक रन बनाए। शाह ने बड़ौदा के खिलाफ पिछले मैच में 165 रन बनाए थे।

कर्नाटक की ओर से स्पिनर जगदीश सुचित ने पांच जबकि पवन देशपांडे ने तीन विकेट चटकाए।

ग्रुप बी:-

हिमाचल प्रदेश के पांच विकेट पर 244 रन

निखिल गंगटा, अंकित कालसी और ऋषि धवन के अर्धशतकों की मदद से हिमाचल प्रदेश ने पंजाब के खिलाफ एलीट ग्रुप बी मैच के पहले दिन शुरुआती झटकों से उबरकर पांच विकेट पर 244 रन बनाए।

पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने वाले हिमाचल का स्कोर एक समय दो विकेट पर 41 रन था लेकिन प्रवीण ठाकुर (44), गंगटा (58), कालसी (नाबाद 50) और धवन (61) की उपयोगी पारियों से वह पहले दिन के खेल की समाप्ति पर बेहतर स्थिति में पहुंचने में सफल रहा।

पंजाब की तरफ से संदीप शर्मा और सनवीर सिंह ने दो-दो विकेट लिए हैं।

अवेश को 7 विकेट, मध्य प्रदेश ने पहली पारी की बढ़त हासिल की

मध्यप्रदेश ने अवेश खान की कातिलाना गेंदबाजी के बाद अजय रोहेरा और रजत पाटिदार के नाबाद अर्धशतकों से एलीट ग्रुप बी मुकाबले के शुरुआती दिन हैदराबाद के खिलाफ पहली पारी की बढ़त हासिल की।

मध्यप्रदेश ने टॉस जीतकर हैदराबाद को बल्लेबाजी का न्यौता दिया जो आवेश की गेंदबाजी के आगे महज 124 रन पर सिमट गई। अवेश ने 12.3 ओवर में छह मेडन सहित 24 रन देकर सात विकेट हासिल किए।

पढ़ें:  रणजी ट्रॉफी: शतक से चूके इरफान पठान, पारस डोगरा ने खेली 253 रन की पारी

अगर हिमालच अग्रवाल ने 69 रन (76 गेंद, आठ चौके और दो छक्के) की अर्धशतकीय पारी नहीं खेली होती तो यह स्कोर और कम हो सकता था। कप्तान पी रेड्डी ने 21 रन का योगदान दिया। टीम के तीन खिलाड़ी ही दोहरे अंक का स्कोर बना सके।

स्टंप तक मध्यप्रदेश ने अजय की 81 रन और रजत की 51 रन की नाबाद अर्धशतकीय पारी से एक विकेट पर 168 रन बनाकर पहली पारी के आधार पर 44 रन की बढ़त बना ली थी।

अजय ने 112 गेंद की पारी में छह चौके और दो छक्के जमाये जबकि रजत ने 103 गेंद की पारी में सात चौके जड़े।

इंद्रजीत, शाहरुख ने तमिलनाडु को संभाला

कप्तान बाबा इंद्रजीत (87) और पदार्पण कर रहे मसूद शाहरुख खान (नाबाद 82) के अर्धशतकों की बदौलत तमिलनाडु ने एलीट ग्रुप बी मैच में केरल के खिलाफ बेहद खराब शुरुआत से उबरते हुए छह विकेट पर 249 रन बनाए।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे तमिलनाडु की शुरुआत बेहद खराब रही। टीम ने एक समय 31 रन पर चार विकेट गंवा दिए थे लेकिन इंद्रजीत और शाहरुख की पारियों की बदौलत टीम वापसी करने में सफल रही।

संदीप वारियर (42/3) ने मैच की दूसरी गेंद पर ही अनुभवी सलामी बल्लेबाज अभिनव मुकुंद (00) को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया।

बंगाल के खिलाफ पिछले मैच में शतक जड़ने वाले बाबा अपराजित भी तीन रन बनाने के बाद संदीप की गेंद पर बोल्ड हो गए। बासिल थंपी (दो विकेट) ने इसके बाद सलामी बल्लेबाज कौशिक गांधी (19) और ऑस्ट्रेलिया दौरे पर राष्ट्रीय टी20 टीम का हिस्सा रहे दिनेश कार्तिक (04) को पवेलियन भेजा।

रिकी भुई का नाबाद शतक, भाटी ने जगाई दिल्ली की उम्मीद

मध्यक्रम के बल्लेबाज रिकी भुई की 150 रन की नाबाद शतकीय पारी की बदौलत आंध्र ने दिल्ली के खिलाफ एलीट ग्रुप बी मैच के पहले दिन सुबोध भाटी से मिले झटकों के बावजूद सात विकेट पर 266 रन बनाए।

गौतम गंभीर का यह आखिरी प्रथम श्रेणी मैच है। उन्होंने पहले ही घोषणा कर दी थी कि इस मैच के बाद वह क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कह देंगे। सभी की निगाह बायें हाथ के इस बल्लेबाज पर टिकी थी लेकिन वह भुई थे जिन्होंने दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ खींचा।

दिल्ली ने टॉस जीतकर आंध्र को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया और फिरोजशाह कोटला में सुबह की अनुकूल परिस्थितियों का फायदा उठाकर भाटी (35/5) ने उसका शीर्ष क्रम थर्रा दिया। आंध्र ने चार विकेट 48 रन पर गंवा दिए जिसमें से तीन विकेट भाटी ने लिए थे।

भुई ने पारी के तीसरे ओवर में दूसरा विकेट गिरने के बाद क्रीज पर कदम रखा और इसके बाद दिन के आखिरी तक एक छोर संभाले रखा। उन्होंने अब तक 225 गेंदों का सामना करके 19 चौके और एक छक्का लगाया है। इस बीच उन्हें पी गिरिनाथ रेड्डी (29), शिवचरण सिंह (27) और कर्ण शर्मा (31) का अच्छा साथ मिला।

भाटी ने अपने करियर में पहली बार पारी में पांच विकेट लिए।