Ranji Trophy 2018-19: Punjab vs Bengal, Baroda vs Karnataka, Tamil Nadu vs Delhi, Rajasthan vs Tripura
Abhinav Mukund (File Photo) © Getty Images

सलामी बल्लेबाज अभिनव मुकुंद की नाबाद 104 रन की पारी से तमिलनाडु ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप बी के मैच में सोमवार को पहले दिन दिल्ली के खिलाफ तीन विकेट पर 215 रन बना लिये। टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी तमिलनाडु की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 42 रन तक उसने दो विकेट गंवा दिये। मुकुंद ने इसके बाद कप्तान बाबा इंद्रजीत (86) के साथ तीसरे विकेट के लिए 155 रन की साझेदारी कर टीम को संकट से उबारा। इस साझेदारी को विकास मिश्रा (71 रन पर दो विकेट) ने तोड़ा।

मुकुंद ने 244 गेंद की नाबाद पारी में 11 चौके लगाये। इंद्रजीत ने 199 गेंद का सामना किया और अपनी पारी के दौरान 11 चौके लगाये। दिन का खेल खत्म होते समय मुकुंद के साथ विजय शंकर (08) क्रीज पर मौजूद थे। दिल्ली के लिए विकास के दो विकेट के अलावा शिवम शर्मा ने एक विकेट लिया।

पढ़ें:- श्रीलंका के खिलाफ टी20 मैच में न्यूजीलैंड की कप्तानी करेंगे साउदी, विलियमन को आराम

पंजाब बनाम बंगाल

बायें हाथ के स्पिनर विनय चौधरी (62 रन पर 6 विकेट) की करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी से पंजाब ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप बी के मैच में सोमवार को पहले दिन बंगाल की पहली पारी को 187 रन पर समेट दिया।

दिन का खेल खत्म होने तक पंजाब ने दो विकेट के नुकसान पर 47 रन बना लिये। शुभमन गिल 36 और अनमोलप्रीत सिंह एक रन पर बल्लेबाजी कर रहे हैं। बंगाल के लिए दोनों विकेट मुकेश कुमार ने लिये। उन्होंने पारी के 15वें ओवर की अंतिम दो गेंदों पर जीवनजोत सिंह (10) और मयंक मार्कंडेय (00) का विकेट लिया।

पढ़ें:- VIDEO: पुजारा को रिषभ पंत ने किया नचाने का प्रयास, हुए फेल तो CA ने ली चुटकी

इससे पहले टॉस जीत कर बल्लेबाजी करने उतरी बंगाल की शुरुआत खराब रही और 53 रन तक आधी टीम पवेलियन लौट गयी। सुदीप चटर्जी (52) ने इसके बाद श्रीवत्स गोस्वामी (57) के साथ 65 रन की साझेदारी कर टीम के स्कोर को 118 तक पहुंचाया। इस साझेदारी के टूटने के गोस्वामी ने बाद में नौवें और दसवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आये क्रमश: प्रदीप्ता प्रमाणिक (19) और अशोक डिंडा (18) के साथ मिलकर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

बंगाल के लिए चौधरी के छह विकेट के अलावा एमएस गोनी ने दो जबकि सिद्धार्थ कौल और मयंक मार्कंडेय को 1-1 सफलता मिली।

पढ़ें:- परेरा का शतक बेकार, न्‍यूजीलैंड ने श्रीलंका को 21 रन से हरा जीती सीरीज

बड़ौदा बनाम कर्नाटक

विष्णु सोलंकी और दीपक हुड्डा के शानदार अर्धशतकों की मदद से बड़ौदा ने सोमवार को यहां रणजी ट्रॉफी ग्रुप ए मैच में पहली पारी में 111 रन की अहम बढ़त हासिल की। मैच में पहले दिन ही कुल 22 विकेट गिरे।

कर्नाटक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और बड़ौदा ने उसे महज 112 रन के स्कोर पर समेट दिया। कप्तान मनीष पांडे 43 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहे, लेकिन इसके बाद मेजबान टीम ने सोलंकी (69 रन) और हुड्डा (51 रन) के अर्धशतकों से 223 रन बनाकर पहली पारी की बढ़त हासिल की।

स्टंप तक कर्नाटक ने दूसरी पारी में 13 रन के स्कोर पर दो विकेट गंवा दिये। वाे बड़ौदा से अब भी 98 रन से पीछे है। कृष्णमूर्ति सिद्धार्थ 11 और करुण नायर दो रन बनाकर खेल रहे हैं।

बड़ौदा के लिये लुकमान मेरीवाला और भार्गव भट्ट ने तीन तीन और ऋषि अरोठे और सोएब ताई ने दो दो विकेट चटकाये। कर्नाटक के लिये श्रेयस गोपाल और शुभांग हेगडे ने चार चार खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा।

त्रिपुरा बनाम राजस्‍थान

राजस्थान ने अनीकेत चौधरी के पांच और तनवीर उल हक के तीन विकेट की बदौलत रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी मैच के पहले दिन त्रिपुरा को 35 रन पर समेटने के बाद 218 बनाकर बढ़त हासिल की।

स्टंप तक त्रिपुरा ने दूसरी पारी में बिना विकेट गंवाये चार रन बना लिये हैं और वो 179 से पीछे चल रहे हैं। टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी त्रिपुरा के लिये केवल नीलांबुज वत्स ही दोहरे अंक तक पहुंच सके, जिन्होंने नाबाद 11 रन बनाये। छह खिलाड़ी शून्य पर आउट हुए। इससे पूरी टीम महज 18.5 ओवर में सिमट गयी।

राजस्थान की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही, उसके लिये शीर्ष क्रम में कोई बड़ी भागीदारी नहीं बनी। पुछल्ले बल्लेबाज तनवीर उल हक 37 रन बनाकर टीम के लिये शीर्ष स्कोरर रहे, जिससे टीम 51.3 ओवर में 218 रन पर सिमट गयी।

त्रिपुरा के गेंदबाजों का प्रदर्शन भी अच्छा रहा जिसमें एमबी मुरासिंह ने चार विकेट झटके जबकि एस एस दास और नीलांबुज वत्स को दो दो विकेट मिले।