Ranji Trophy 2018-19: We had a decent day after losing toss; Says Sitanshu Kotak
jaydev unadkat with team (PTI)

सौराष्ट्र टीम के कोच सितांशु कोटक अपनी टीम के अनुशासित प्रयास से काफी खुश हैं जिसकी बदौलत रणजी ट्रॉफी फाइनल के पहले दिन स्टंप तक गत चैंपियन ने 200 रन तक सात विकेट गंवा दिए थे।

पढ़ें: ‘मैं नहीं बता सकता कि विश्व कप में कौन चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करेगा’

कोटक ने कहा कि वसीम जाफर को सस्ते में आउट करना और प्रतिद्वंद्वी कप्तान फैज फजल के अजीब तरीके से आउट होने से टीम ने मैच पर नियंत्रण बना लिया।

उन्होंने स्वीकार किया कि अगर जाफर क्रीज पर टिके रहते तो उन्हें रोकना काफी मुश्किल हो जाता। उन्हें लगता है कि फार्म में चल रहे इस खिलाड़ी ने शायद स्ट्रोक्स नहीं खेलने की गलती की। जाफर महज 23 रन पर आउट हो गये जिन्हें सौराष्ट्र के कप्तान जयदेव उनादकट ने पवेलियन भेजा।

पढ़ें: SA vs PAK: मिलर ने 1 ओवर में बटोर 29 रन, पाक को जीत के लिए 189 का लक्ष्‍य

कोटक ने कहा, ‘वसीम भाई अपने शॉट खेलना पसंद करते हैं लेकिन आज उन्होंने खुद को रोके रखा। विकेट भी धीमा था और आज इस पर थोड़ी नमी भी थी। टॉस गंवाने के बाद हमारे लिए दिन अच्छा रहा। हम अगर टॉस जीतते तो निश्चित रूप से पहले बल्लेबाजी करते।’

उन्होंने कहा, ‘हम काफी अनुशासित थे, जज्बा था और हमें उसका फल भी मिला। हमने लगातार अंतराल पर विकेट हासिल किए। हम भाग्यशाली रहे कि हमें फैज फजल का विकेट मिला।’

कोटक ने कहा, ‘यह निश्चित रूप से ऐसा विकेट नहीं है जहां आप प्रतिद्वंद्वी टीम को 150 रन के स्कोर पर आउट कर सकते हो, इसलिए हमने अच्छा प्रदर्शन किया।’

(इनपुट-भाषा)