Sanath Jayasuriya banned for two years after admitting corruption charges
Sanath Jayasuriya has been banned from all cricket for two years after admitting breaching two counts of the ICC Anti-Corruption Code.

श्रीलंका क्रिकेट टीम के विस्फोटक ओपनर और पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या पर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने दो साल का प्रतिबंध लगा दिया है। श्रीलंका के पूर्व कप्तान पर भ्रष्टाचार रोधी जांच में सहयोग नहीं करने पर दो साल का प्रतिबंध लगाया गया।

सनथ जयसूर्या पर आईसीसी ने सभी तरह की क्रिकेट से दो साल का प्रतिबंध लगाया है। जयसूर्या ने इस बात को स्वीकार किया कि उन्होंने आईसीसी के एंटी करप्शन कोड को तोड़ा है। इस बात को स्वीकार करने के बाद आईसीसी की तरफ से उनपर दो साल का प्रतिबंध लगा दिया गया।

जयसूर्या ने स्वीकार किया था कि उन्होंने सबूतों से छेड़छाड़ करके भ्रष्टाचार रोधी जांच में बाधा पहुंचाई थी। उन्हें आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधक इकाई (एसीयू) संहिता के दो अनुच्छेदों के उल्लंघन का दोषी पाया गया है।

आईसीसी ने कहा, ‘‘उनकी स्वीकारोक्ति के बाद उन्होंने दो साल का प्रतिबंध भी स्वीकार कर लिया है।’’

जयसूर्या श्रीलंका की 1996 विश्व कप विजेता टीम के अहम सदस्य थे। इसके बाद वह दो बार चयनसमिति के अध्यक्ष भी रहे। श्रीलंकाई क्रिकेट में बड़े स्तर पर फैले भ्रष्टाचार की आईसीसी की जांच के दौरान जयसूर्या से पूछताछ की गई थी। जयसूर्या को आईसीसी आचार संहिता के अनुच्छेद 2.4.6 और 2.4.7 के उल्लंघन का दोषी पाया गया है।

इसमें अनुच्छेद 2.4.6 ‘‘बिना किसी उचित कारण के एसीयू की किसी जांच में सहयोग नहीं करना या उसमें नाकाम रहने’ तथा अनुच्छेद 2.4.7 ‘‘एसीयू की किसी जांच में देरी या बाधा पहुंचाने ’’ से संबंधित हैं।

जयसूर्या को इंटरनेशनल क्रिकेट के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर और विस्फोटक ओपनर में गिना जाता है। जयसूर्या ने 445 वनडे में 13430 रन बनाए हैं जबकि उनके नाम 323 वनडे विकेट भी हैं। 110 टेस्ट मैच में 6973 रन बनाए हैं साथ ही 98 विकेट भी चटकाए हैं।