Shahid Afridi, Zaheer Abbas does not want to see Sarfaraz Ahmed as Test captain
सरफराज अहमद © Getty Images

पाकिस्तान के पूर्व कप्तानों शाहिद आफरीदी और जहीर अब्बास का मानना है कि सरफराज अहमद को टेस्ट टीम की कप्तानी नहीं करनी चाहिए हालांकि वो सीमित ओवरों फॉर्मेट में ये जिम्मेदारी संभालना आजारी रख सकते हैं।

आफरीदी ने कहा कि सरफराज को वनडे और टी20 टीमों का कप्तान बनाए रखना फैसला सही है लेकिन वो टेस्ट मैचों के लिए उपयुक्त कप्तान नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि सरफराज अगर टेस्ट में टीम का नेतृत्व नहीं करते हैं तो उनके लिए अच्छा होगा। मेरा मानना है कि तीनों फॉर्मेट में कप्तानी करना उनके लिए बड़े बोझ की तरह है। उनके पास सीमित ओवर के फॉर्मेट में एक सफल कप्तान बनने की काबिलियत है।’’

‘पाकिस्तान दौरे पर ना आने वाले खिलाड़ियों को PSL में हिस्सा लेने से रोक दें’

सरफराज ने मिस्बाह-उल-हक के संन्यास के बाद 2017 के बाद से तीनों फॉर्मेट में पाकिस्तान का नेतृत्व किया है लेकिन टेस्ट में उन्हें आलोचना का सामना करना पड़ा जहां टीम आईसीसी रैंकिंग में 7वें स्थान पर खिसक गई है।

पूर्व दिग्गज जहीर अब्बास ने भी ऐसी ही राय व्यक्त की। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि वो तीनों फॉर्मेट में कप्तानी के दबाव को ठीक से मैनेज कर पा रहे हैं। सरफराज को सिर्फ वनडे और टी20 फॉर्मेट में ये जिम्मेदारी सौपी जानी चाहिए।

BCCI की राहुल द्रविड़ के साथ शास्त्री को महान बताने पर भड़के फैंस

उन्होंने मिस्बाह को कोच और चयनकर्ता की दोहरी भूमिका दिए जाने की आलोचना करते हुए कहा कि उन्हें शीर्ष स्तर पर कोचिंग का अनुभव नहीं है। अब्बास ने कहा, ‘‘मुझे लगता है इससे मिस्बाह पर काफी दबाव बनेगा क्योंकि उसके पास शीर्ष स्तर की कोचिंग का अनुभव भी नहीं है।”