भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के भावी अध्यक्ष सौरव गांगुली ने स्पष्ट किया है कि वह महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य को लेकर राष्ट्रीय चयन समिति की योजनाओं को जानना चाहते हैं और इसके बाद ही इस मुद्दे पर अपना नजरिया रखेंगे।

भ्रष्टाचार के आरोप में आईसीसी ने यूएई के तीन खिलाड़ियों को किया सस्पेंड

भारत के विश्व कप से बाहर होने के बाद से धोनी ने ब्रेक लिया है और उनके बांग्लादेश के खिलाफ तीन मैचों की टी20 श्रृंखला में जगह बनाने की उम्मीद नहीं है जिसका चयन 24 अक्टूबर को किया जाएगा।

धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा नहीं की है लेकिन चयनकर्ता बार-बार अपना इरादा स्पष्ट करते रहे हैं कि अगले साल के विश्व टी20 को ध्यान में रखते हुए वे आगे बढ़ना चाहते हैं।

जल्द ही बीसीसीआई प्रमुख की जिम्मेदारी संभालने वाले गांगुली ने ईडन गार्डन्स में संवाददाओं से कहा, ‘24 अक्टूबर को चयनकर्ताओं से बैठक के दौरान मैं उनका रुख जानूंगा। हमें पता चलेगा कि चयनकर्ता क्या सोच रहे हैं और इसके बाद मैं अपना नजरिया रखूंगा।’

‘हमें पता करना होगा कि धोनी क्या चाहते हैं’

गांगुली ने साथ ही कहा कि वह धोनी से भी बात करना पसंद करेंगे और जानना चाहते हैं कि वह क्या चाहता हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें देखना होगा कि धोनी क्या चाहता है। मैं उससे भी बात करूंगा कि वह क्या चाहता है और वह क्या नहीं करना चाहता।’’

आंद्रे रसेल बोले- ओलपिंक में शामिल किया जा सकता है टी10 क्रिकेट

गांगुली ने कहा कि अभी उनकी कोई भूमिका नहीं है इसलिए धोनी के भविष्य के संदर्भ में वह स्पष्ट नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘मेरी कोई भूमिका नहीं है इसलिए अभी मैं स्थिति को लेकर स्पष्ट नहीं हूं। अब मैं इसे पता करने की स्थिति में रहूंगा और फिर फैसला करूंगा कि क्या करना है।’

23 अक्टूबर को संभालेंगे कार्यभार

पूर्व भारतीय कप्तान गांगुली ने कहा कि 23 अक्टूबर को एजीएम में प्रभार संभालने के बाद वह चयनकर्ताओं और कप्तान से बात करेंगे।

पहले चयन समिति की बैठक 21 अक्टूबर को होनी थी लेकिन अब यह 24 अक्टूबर को होगी। इसके साथ ही देवधर ट्रॉफी के लिए भारत ए, बी और सी टीमों का चयन भी किया जाएगा।