South Africa tour of India 2019: India vs South Africa, 1st T20I, Preview
विराट कोहली © AFP

कप्तान विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम रविवार से दक्षिण अफ्रीका के साथ शुरू होने वाली तीन मैचों की  टी20 सीरीज के साथ ही विश्व टी20 खिताब को हासिल करने की तैयारियों में जुट जाएगी। वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में 3-0 की जीत इन तैयारियों की शुरूआत थी जिसने वनडे विश्व कप की निराशा को कुछ हद तक दूर किया।

टीम की असली परीक्षा अब क्विंटन डी कॉक और कगिसो रबाडा के खिलाफ इस सीरीज के साथ शुरू होगी। रबाडा का अच्छा स्पेल और डेविड मिलर का प्रदर्शन भारतीयों के लिए चुनौती पेश कर सकता है जबकि फाफ डु प्लेसिस और हाशिम अमला की अनुपस्थिति में दूसरे टेस्ट स्पेशलिस्ट खिलाड़ी जैसे टेम्बा बावुमा और एनरिक नार्टजे अपनी अहमियत साबित करना चाहेंगे।

अगले साल अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले विश्व टी20 के लिए टीम का सही संयोजन तैयार करने की मुहिम में कप्तान कोहली और मुख्य कोच रवि शास्त्री के लिए लगभग 20 मैच बचे हैं। अब भी कई सवाल ऐसे हैं जिनका जवाब टीम प्रबंधन को अगले 13 महीनों में देना होगा और इस दौरान आईपीएल भी आयोजित किया जायेगा।

‘सलामी बल्लेबाज के तौर पर रोहित शर्मा की सफलता बड़े लक्ष्य का पीछा करने में करेगी मदद’

कोहली, उप कप्तान रोहित शर्मा, ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या और मुख्य तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (इस सीरीज में आराम दिया गया) को छोड़कर शुरूआती प्लेइंग इलेवन में कम से कम सात स्थान और 15 सदस्यीय टीम में चार और स्थान खिलाड़ी हासिल कर सकते हैं।

महेंद्र सिंह धोनी का संन्यास लेना व्यक्तिगत फैसला होगा लेकिन क्या टीम मैनेजमेंट का इरादा चयन समिति की तरह आगे बढ़ने का है? इसके बारे में अभी तक कुछ पता नहीं है और रिषभ पंत का प्रदर्शन भी कोहली और शास्त्री के लिए चीजें आसान नहीं कर सकता।

मनीष पांडे पिछले कुछ सालों से टीम के साथ हैं और कर्नाटक के इस बल्लेबाज की काबिलियत को देखते हुए उन्हें जितने मौके मिले, वो उतना आत्मविश्वास हासिल नहीं कर पाए हैं। तो चौथे नंबर पर कौन होगा पांडे या फिर दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर जो वेस्टइंडीज के दौरे पर वनडे के दौरान शानदार फार्म में थे।

CPL 2019: कॉलिन मुनरो की धमाकेदार पारी के दम पर नाइट राइडर्स ने लगातार चौथी जीत दर्ज की

साथ ही राजस्थान के लेग स्पिनर राहुल चाहर युवा प्रतिभाशाली गेंदबाज को भारतीय टीम के भविष्य के गेंदबाज के रूप में देखा जा रहा है। ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या भी अच्छी तरह ढल रहे हैं और रवींद्र जडेजा का अनुभव भी कारगर साबित होगा। साथ ही भारत के पास युवा वाशिंगटन सुंदर के रूप में बैक-अप ‘फिंगर स्पिनर’ मौजूद है तो सवाल उठता है कि कुलदीप और चहल का स्थान टी20 टीम में कहां है।

अंत में तेज गेंदबाजी विभाग में बुमराह की मौजूदगी निश्चित है। लेकिन दीपक चाहर भी छोटे फॉर्मेट के लिए अहम हो सकते हैं। फिर नवदीप सैनी और खलील अहमद के रूप में भी विविधता मौजूद है लेकिन दोनों काफी रन गंवाते हैं। अगले 13 महीनों में कोहली ये सभी जवाब ढूंढना चाहेंगे।

स्मिथ के अर्धशतक के बावजूद आर्चर के 6 विकेट ने इंग्लैंड को दिलाई बढ़त

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत (विकेट कीपर), हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, कृणाल पंड्या, वाशिंगटन सुंदर, राहुल चाहर, खलील अहमद, दीपक चाहर और नवदीप सैनी।

दक्षिण अफ्रीका : क्विंटन डी कॉक (कप्तान), रासी वान डर दुसेन (उप कप्तान), टेम्बा बावुमा, जूनियर डाला, ब्योर्न फोरटुइन, बेयुरन हेन्ड्रिक्स, रीजा हेंड्रिक्स, डेविड मिलर, एनरिक नार्जे, एंडिले फेलुकवायो, ड्वेन प्रीटोरियस, कैगिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, जॉर्ज लिंडे।