विराट कोहली © Getty Images
विराट कोहली © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा ने विराट कोहली की जमकर तारीफ की। मैक्ग्रा को एमआरएफ पेस फाउंडेशन में जिम्मेदारी दी गई है। मैक्ग्रा ने डेनिल लिली की जगह पेस फाउंडेशन में जिम्मेदारी संभाली है। इस दौरान छात्रों से बातचीत करते हुए मैक्ग्रा ने कहा कि विराट कोहली को गेंदबाजी करना आज के गेंदबाजों के लिए चुनौती बन गया है। कोहली के सामने गेंदबाज असुरक्षित महसूस करता है।

मैक्ग्रा ने कहा कि आज के दौर में अगर कोई बल्लेबाज गेंदबाजों के लिए चुनौती बनकर उभरा है तो वो है विराट कोहली। मैं जितने भी लोगों से मिला हूं उन्होंने मुझसे कहा कि आप काफी भाग्यशाली हैं जो आपको कोहली के सामने गेंदबाजी नहीं करनी पड़ी। लेकिन मैं सच कहूं तो कोहली के सामने गेंदबाजी करने की चुनौती को मैं पसंद करता। आज के दौर में बल्लेबाजों की मानसिकता काफी बदल गई है। खासकर वनडे और टी20 क्रिकेट में। वनडे में 380 रनों का स्कोर भी अब सुरक्षित नहीं रहा। मुझे हैरानी है कि गेंदबाज क्या कर रहे हैं। कप्तानी पर बोलते हुए मैक्ग्रा ने कहा कि बल्लेबाज टीम के नेतृत्व के लिए बेहतर होते हैं। मैं एक गेंदबाज था और मैंने कभी नहीं चाहा कि मैं टीम का कप्तान बनूं। तेज गेंदबाज अच्छे कप्तान नहीं बन सकते। लेकिन अगर आप गेंदबाज हैं तो आपको समझना होगा कि आप किस तरह से बल्लेबाज को परेशान कर सकते हैं।  भारत बनाम इंग्लैंड तीसरे वनडे के लाइव ब्लॉग को पढ़ने के लिए क्लिक करें

वहीं मैक्ग्रा ने सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा की तारीफ करते हुए कहा कि इन दोनों बल्लेबाजों के सामने गेंदबाजी करना चुनौती रहा। सचिन की तकनीक काफी मजबूत थी तो लारा के साथ मेरा थोड़ा खट्ठा-मीठा रिश्ता रहा है लेकिन हाल ही में मैंने उसके साथ कुछ अच्छे पल बिताए हैं।