विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी © Getty Images
विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी © Getty Images

भले ही महेंद्र सिंह धोनी भारत के सबसे ज्यादा पैसा कमाने वाले खिलाड़ी के रूप में जाने जाते हों व विराट कोहली सबसे ज्यादा मार्केटेबल एथलीट के रूप में। लेकिन इन दोनों में से कोई मैदान में अपने-अपने खेलों के दौरान कमाई के मामले में पहलवान योगेश्वर दत्त के आस पास भी दिखाई नहीं देते। जरूर ही आपको सुनने में यह अजीब लगे, लेकिन यह शत- प्रतिशत सत्य है। हाल ही में भारतीय स्पोर्ट्स सैलरीज रिपोर्ट् में जिसमें भारतीय स्पोर्ट्स पदानुक्रमों में सैलरीज के वितरण की जानकारी दी जाती है के अनुसार ओलंपिक कांस्य पदक जीतने वाले योगेश्वर ने तालिक में शीर्ष स्थान प्राप्त किया है। साल 2012 में लंदन ओलंपिक के दौरान मेडेल जीतने वाले योगेश्वर ने हाल ही में प्रो रेसलिंग लीग के दौरान प्रति मिनट के हिसाब से 1.65 लाख रुपए की कमाई की है। योगेश्वर को साल 2013 में पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। ये भी पढ़ें: नंबर तीन पोजीशन के लिए विराट कोहली और युवराज सिंह के बीच शुरू हुई जंग

आजकल वह साल 2016 में रियो में होने वाले ओलंपिक की तैयारियों में व्यस्त हैं। इस सूची में विभिन्न एथलीटों द्वारा मैदान में समय बिताने के दौरान कमाए गए पैसों की लिस्ट के बारे में जानकारी दी गई है। इस मामले में ही कोहली और धोनी योगेश्वर से पीछे हो जाते हैं। प्रति मिनट कमाने के हिसाब से ये दोनों खिलाड़ी 75,000 रुपए कमाते हैं।

यह सर्वे रिसर्च सर्विसेज एजेंसी के द्वारा कराया गया था जिसमें उन्होंने राफेल नडाल और रोजर फेडरर को सबसे ज्यादा पैसा कमाने वाला स्पोर्टस्टार बताया है। हाल ही में ये दोनों भारत में इंटरनेशनल टेनिस प्रीमियर लीग(आईपीटीएल) के दौरान खेले थे। दोनों को इस दौरान 26-26 करोड़ रुपए दिए गए थे। इसके अलावा रिपोर्ट में बताया गया है कि फ्रेंचाइजियों ने 8 अलग-अलग स्पोर्टिंग लीगों में कुल 823 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। इसमें घरेलू और विदेशी खिलाड़ियों को दिए गए पैसों में भी एक बड़ा अंतर देखने को मिला है। इस दौरान घरेलू खिलाड़ियों को 296 करोड़ रुपए दिए गए हैं तो विदेशी खिलाड़ियों को 527 करोड़ रुपए दिए गए हैं। कुल 857 खिलाड़ियों में से 521 भारतीय खिलाड़ी हैं तो 336 विदेशी खिलाड़ी हैं।