बांग्‍लादेश दौरे से पहले अफगानिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड ने टेस्‍ट, वनडे और टी20 सभी फॉर्मेट में कप्‍तानी युवा राशिद खान को सौंपी। बतौर कप्‍तान अपने पहले ही टेस्‍ट मैच में राशिद खान ने न सिर्फ बांग्‍लादेश पर 224 रन से जीत दर्ज की बल्कि वो इस मैच में 11 विकेट निकालने में भी सफल रहे। इस जीत के साथ ही अफगानिस्‍तान की टीम ने एक खास क्‍लब में अपनी जगह बना ली है।

पढ़ें:- टेस्‍ट सीरीज के लिए साउथ अफ्रीका ने मजूमदार को बनाया अपना बल्‍लेबाजी कोच

टेस्‍ट क्रिकेट खेलने का दर्जा मिलने के बाद अफगानिस्‍तान का यह तीसरा ही मुकाबला है, जिसमें से यह टीम दो मैच जीतने में सफल रही है। अफगानिस्‍तान की टीम टेस्‍ट खेलने का दर्जा मिलने के बाद पहले तीन में से दो मुकाबले जीतने वाली दूसरी टीम बन गई है। इससे पहले ऑस्‍ट्रेलिया ने यह कारनामा किया था।

ऑस्‍ट्रेलिया ने साल 1877 से 1879 के बीच दो साल के दौरान इंग्‍लैंड के खिलाफ तीन टेस्‍ट मैच खेले थे। ऑस्‍ट्रेलिया को पहले और तीसरे मैच में जीत मिली थी। अफगानिस्‍तान ने भारत के खिलाफ पिछले साल अपना टेस्‍ट डेब्‍यू किया था। हालांकि उस मैच में अफगानिस्‍तान को बुरी तरह शिकस्‍त का सामना करना पड़ा था। इसके बाद इस टीम ने आयरलैंड और अब बांग्‍लादेश को टेस्‍ट क्रिकेट में मात दी है।

पढ़ें:- कप्‍तानी छोड़ने के सवाल पर जो रूट ने दी प्रतिक्रिया, कहा- मैंने…

भारत का रिकॉर्ड बेहद खराब

टीम इंडिया की बात की जाए तो 1932 में पहला टेस्‍ट मैच खेलने के बाद पहली जीत दर्ज करने के लिए हमें 30 साल लंबा इंतजार करना पड़ा था। भारत ने साल 1952 में चेन्‍नई टेस्‍ट के दौरान इंग्‍लैंड पर पारी और 193 रन से जीत के साथ क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में पहली जीत दर्ज की थी। भारत को अपने 25वें मुकाबले में पहली जीत मिली थी।