Kolkata Knight Riders, IPL 2019, (Preview): Kolkata Knight Riders eye 3rd title

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इतिहास की सबसे सबसे सफल टीमों में से एक कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) हमेशा की तरह 12वें एडिशन में भी बेहद मजबूत टीम के रूप में चुनौती पेश करेगी। केकेआर ने 2012 और 2014 में आईपीएल खिताब अपने नाम किए हैं।

पढ़ें: अगर IPL में अच्छा करता हूं, तो विश्व कप स्लॉट अपने आप मिल जाएगा: अजिंक्य रहाणे

पिछले वर्ष दिसंबर में हुई खिलाड़ियों की नीलामी में केकेआर ने कई देशी और विदेशी खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ा है। टी-20 के स्‍पेशलिस्‍ट कहे जाने वाले विंडीज के ऑलराउंडर कार्लोस ब्रेथवेट के आने से केकेआर का मनोबल काफी बढ़ा हुआ है।

केकेआर ने ब्रेथवेट को 5 करोड़ रुपये में खरीदा है। 23 मार्च से शुरू हो रहे आईपीएल के नए सीजन में केकेआर अपने अभियान की शुरुआत सनराइजर्स हैदराबाद टीम के खिलाफ 24 मार्च को अपने घर ईडन गार्डंस से करेगी।

कप्‍तान: दिनेश कार्तिक

दिनेश कार्तिक आईपीएल के पिछले सीजन में केकेआर की ओर से सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्‍लेबाज थे। उन्‍होंने 16 मैचों में दो अर्धशतक के साथ 49.80 की औसत से कुल 498 रन बनाए थे जिसमें 52 रन उनका श्रेष्‍ठ स्‍कोर था। इस दौरान उन्‍होंने 49 चौके और 16 छक्‍के जड़े। कार्तिक का स्‍ट्राइक रेट 147.77 का रहा।

कोच: जैक कैलिस

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर जैक कैलिस को 2015 में केकेआर का कोच बनाया गया था। उन्‍होंने इंग्‍लैंड के पूर्व कोच ट्रेवर बेलिस की जगह ली थी। वर्ष 2011 से केकेआर के सदस्‍य और 2014 में मेंटर व बल्‍लेबाजी सलाहकार की भूमिका निभाने वाले कैलिस ने आईपीएल के दो खिताब जीताने में केकेआर के लिए अहम योगदान
दिया था।

पढ़ें: आईपीएल 2019 में डेनियल वेट की पसंदीदा टीम होगी आरसीबी

दिग्‍गज कैलिस ने वन-डे और टेस्‍ट दोनों में 11,000 से ज्‍यादा रन बनाए। इसके अलावा टेस्‍ट व वन-डे में उन्‍होंने क्रमश: 292 और 273 विकेट भी लिए हैं।

स्‍क्‍वॉड

दिनेश कार्तिक (कप्‍तान), कार्लोस ब्रेथवेट, पीयूष चावला, जो डेनली, लोकी फर्ग्‍यूसन, हैरी गर्नी, कुलदीप यादव, क्रिस लिन, श्रीकांत मुंडे, कमलेश नागरकोटि, निखिल नायक, सुनील नारायण, एनरिच नोर्त्‍जे, प्रसिद्ध कृष्‍णा, पृथ्‍वी राज, नीतीश राणा, आंद्रे रसेल, शिवम मावी, शुभमन गिल, रिंकू सिंह और रॉबिन उथप्‍पा।

ऐसा रहा आईपीएल का सफर :

केकेआर टीम 2012 और 2014 में चैंपियन बनी। टूर्नामेंट के पहले एडिशन यानी 2008 में टीम लीग स्‍तर पर आठ टीमों के बीच 6ठे स्‍थान पर रही। केकेआर के लिए 2009 बेहद खराब रहा जब टीम को लीग स्‍तर पर प्‍वाइंट्स टेबल में सबसे निचले क्रम यानी आठवें स्‍थान पर रहना पड़ा था।

पढ़ें: रॉयल चैंलेंजर्स बैंगलोर खत्म करना चाहेगी खिताब का सूखा

वर्ष 2010 में केकेआर की टीम लीग स्‍तर पर आठ टीमों में छठे जबकि 2011 में इस टीम का प्रदर्शन पहले से काफी सुधरा और वह चौथे स्थान पर रही। यह केकेआर के नए युग की शुरुआत थी। 2012 में गौतम गंभीर के नेतृत्व में टीम ने पहली बार आईपीएल का खिताब जीता।

2013 में टीम का प्रदर्शन फिर बिगड़ा और वह छठे स्थान पर रही। हालांकि, 2014 में टीम एकजुट नजर आई और खिताब जीता। 2015 में केकेआर पांचवें स्थान पर रही। 2016 में चौथे और 2017 और 2018 में वह तीसरे स्थान पर रही।

पिछले साल का प्रदर्शन :

पिछले वर्ष (2018) केकेआर ने लीग स्‍तर पर कुल 14 मैचों में से 8 में जीत दर्ज की थी जबकि 6 मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा था। 16 अंक लेकर केकेआर ने प्‍वाइंटस टेबल में तीसरे स्‍थान पर रहते हुए प्‍लेऑफ के लिए क्‍वालीफाई किया था।

पढ़ें:  किंग्‍स इलेवन पंजाब को पहला खिताब जिता सकते हैं ये 5 खिलाड़ी

कप्‍तान कार्तिक के शानदार प्रदर्शन के दम पर केकेआर क्‍वालीफायर 2 में जगह बनाने में सफल रही लेकिन वहां उसे सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था।

नए खिलाड़ी :

कार्लोस ब्रेथवेट, लोकी फर्ग्‍यूसन, जो डेनली, निखिल नायक, हैरी गर्नी, पृथ्‍वी राज, एनरिच नोर्त्‍जे, श्रीकांत मुंडे।

अहम खिलाड़ी:

केकेआर के पास दिनेश कार्तिक के अलावा कार्लोस ब्रेथवेट, क्रिस लिन, आंद्रे रसेल, रॉबिन उथप्‍पा और नीतीश राणा जैसे बेहतरीन बल्‍लेबाज हैं जो अकेले अपने दम पर मैच का पासा पलटने का माद्दा रखते हैं।

टीम में पेसर लोकी फर्ग्‍यूसन, रसेल और ब्रेथवेट जैसे अनुभवी गेंदबाजों के बीच कमलेश नागरकोटि, प्रसिद्ध कृष्‍णा, शिवम मावी जैसे युवा प्रतिभा भी है जो शानदार प्रदर्शन करने को आतुर हैं।

स्पिन विभाग में चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव, पीयूष चावल और विंडीज के सुनील नारायण की तिकड़ी है जो काफी अनुभवी है।

इस बार कुछ ऐसा रह सकता है प्रदर्शन :

हर बार की तरह इस बार भी केकेआर से बेहतरीन प्रदर्शन की उम्‍मीद है। कागज पर बेहद मजबूत दिख रही इस टीम को नॉकआउट तक पहुंचने में कोई कठिनाई नहीं होनी चाहिए। टीम में अनुभव और युवा जोश का मिश्रण है। बेहतरीन बल्‍लेबाजों, ऑलराउंडर और गेंदबाजों से सजी दिनेश कार्तिक की अगुवाई वाली टीम में वो सब कुछ है जो एक संतुलित टीम में होनी चाहिए।

ब्रेथवेट से केकेआर को बल्‍लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग में काफी उम्‍मीदें होंगी। विंडीज का ये ऑलराउंडर टी-20 में लंबे-लंबे छक्‍के लगाने के लिए जाना जाता है।