ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेटर एलिसा हीली ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से लगाई ये गुहार
Australia Women Cricket Team @twitter

ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम की विकेटकीपर बल्लेबाज एलिसा हीली ने कहा है कि वित्तीय परेशानी का सामना कर रहे उनके बोर्ड को महिलाओं के घरेलू मैचों की संख्या को कम नहीं करना चाहिए।

कोविड-19 महामारी के कारण लाखों डॉलर का घाटा झेल रहे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया सत्र को छोटा करने का विचार कर रहा है। घरेलू महिला प्रतियोगिता मार्श शेफील्ड शील्ड और महिला बिग बैश लीग (डब्ल्यूबीबीएल) के मुकाबले पुरुष क्रिकेट की तरह आकर्षक नहीं होते है।

स्‍मृति मंधाना बोलीं- महिला आईपीएल में होनी चाहिए 5-6 टीमें

हीली ने हालांकि कहा कि महिलाओं के मैचों को कम करना प्राथमिकता नहीं होनी चाहिए। हीली ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट संघ (एसीए) की बोर्ड निदेशक भी है। उन्होंने ‘द अनप्लेएबल’ पोडकास्ट से कहा, ‘जाहिर है यह अच्छा नहीं होगा। हम नहीं चाहते की मैच कम हों।’

उन्होंने कहा, ‘खास तौर पर डब्ल्यूबीबीएल (महिला बिग बैश लीग) के मुकाबलों को कम नहीं किया जाना चाहिए। यह शानदार टूर्नामेंट है और हम अपना ज्यादातर क्रिकेट इसी में खेलते है। हमें घरेलू प्रतियोगिताओं में 50 ओवर के मैचों को खेलने का ज्यादा मौका नहीं मिलता।’

दोबारा मैदान पर उतरने से पहले बल्लेबाजों को करना होगा कड़ा अभ्यास: अय्यर

उन्होंने कहा, ‘हम नहीं चाहते कि मैचों की संख्या घटे। मुझे नहीं लगता कि हमारे घरेलू क्रिकेटरों को ज्यादा खेलने का मौका मिलता है। हाल में ऐसी खबर आई थी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने वित्तीय नुकसान की भरपाई के लिए पुरुषों के क्रिकेट के लिए महिलाओं के मैच को कम कर सकती है।