भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या का कहना है कि उन्‍होंने इंडिया ए की बजाए रणजी ट्रॉफी में खेलने की इसलिए प्राथमिकता दी है ताकि वो यहां अच्‍छा प्रदर्शन कर टेस्‍ट टीम में वापसी कर सकें।

पांड्या को इस वर्ष यूएई में आयोजित एशिया कप में पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच में चोट लग गई थी। जिसके बाद से पांड्या टीम से बाहर हैं। उन्‍हें कमर के निचले हिस्‍से में चोट लगी थी। लेकिन अब पांड्या फिट हो चुके हैं। चोट के बाद पांड्या रणजी ट्रॉफी में बड़ौदा के लिए मुंबई के खिलाफ खेल रहे हैं।

पढ़ें: तीसरी बार चार तेज गेंदबाजों के साथ टेस्ट मैच में उतरी भारतीय टीम

क्रिकबज के मुताबिक हार्दिक पांड्या ने कहा, ‘ मैंने इंडिया ए टीम से खेलने की बजाय रणजी में खेलना इसलिए मुनासिब समझा क्‍योंकि मैं टेस्‍ट क्रिकेट खेलना चाहता हूं। यदि मैं रणजी में अच्‍छा प्रदर्शन करता हूं और टीम को मेरी जरूरत होती है तो मैं ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे और चौथे टेस्‍ट के लिए चुना जा सकता हूं।’

पढ़ें: टीम में फेरबदल किया तो भारत समझेगा हम चिंतित हैं -इयान चैपल

बड़ौदा की टीम इस सत्र में पांच मैचों में एक जीत, तीन ड्रॉ और एक हार के साथ ग्रुप ए और ग्रुप बी की संयुक्त तालिका में पांचवें स्थान पर है जबकि मुंबई की टीम 16वें स्थान पर है। बड़ौदा की टीम को हार्दिक पांड्या की उपलब्धता से मजबूती मिली है।