I will be back playing for India : Murali Vijay
Murali Vijay © AFP

टीम इंडिया से दरकिनार किए गए टेस्‍ट ओपनर मुरली विजय वापसी के प्रति आश्‍वस्‍त हैं। खराब फॉर्म की वजह से विजय को टीम से बाहर किया गया है। 34 साल के विजय का इंग्‍लैंड दौरे पर जारी टेस्‍ट सीरीज के शुरुआती दो मैचों में अच्‍छा प्रदर्शन नहीं रहा था जिसके बाद उन्‍हें टीम से ड्रॉप कर दिया गया है।

चेन्‍नई क्‍लब जॉली रोवर्स के लिए आईआईटी-चेम्‍पलास्‍ट ग्राउंड पर खेले गए मैच में मुरली विजय ने 32 गेंदों पर 37 रन की पारी खेली। विजय ने इंग्‍लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्‍ट सीरीज की चार पारियों में 6.50 के औसत से सिर्फ 26 रन ही बना सके।

विजय लॉडर्स टेस्‍ट मैच की दोनों पारियों में खाता भी नहीं खोल सके थे। इंग्‍लैंड दौरे पर दो मैच खिलाने के बाद मुरली विजय को नॉटिंघम टेस्‍ट मैच में जगह नहीं दी गई। भारत ने नॉटिंघम टेस्‍ट को 203 रन से अपने नाम किया था।

जॉली रोवर्स के लिए मैच खेलने के बाद विजय ने कहा, ‘ मुझे नहीं लगता यह मेरी उम्र को लेकर हुआ है। वैसे भी यह मेरे साथ पहली बार नहीं हुआ है। उम्र केवल एक संख्या है। जब तक मेरे पैर क्रीज में चलेंगे और मेरी तकनीक काम करेगी, तब तक मैं खेलना जारी रखूंगा।’

‘वापसी का है भरोसा’

बकौल विजय, ‘ मुझे पूरा विश्वास है, कि मैं भारत के लिए खेल वापस खेलूगा। मैं इसके लिए काफी सकारात्मक हूं, मुझे रन बनाने के लिए सिर्फ कुछ चीजों को सुलझाना है और इसके लिए मैं मेहनत कर रहा हूं। फिलहाल मैं चाहता हूं, कि भारतीय टीम इंग्लैंड में खेल रही सीरीज को जीते।’

टीम इंडिया के चौथे सबसे सफल टेस्‍ट ओपनर हैं मुरली विजय

मुरली विजय भारत के चौथे सबसे सफल टेस्‍ट ओपनर हैं। उन्‍होंने बतौर ओपनर 40.32 की औसत से कुल 3,831 रन बनाए हैं। इस दौरान मुरली ने 12 शतक और 15 अर्धशतक लगाए हैं।

भारती टेस्‍ट ओपनर के तौर पर सबसे अधिक शतक लगाने के मामले में तीसरे नंबर पर हैं 

मुरली विजय भारतीय टेस्‍ट ओपनरों में सबसे अधिक शतकों के मामले में तीसरे नंबर पर हैं। उनसे पहले टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान और ओपनर सुनील गावस्‍कर ने 33 जबकि पूर्व विस्‍फोटक बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने 22 शतक लगाए हैं। इसके अलावा भारतीयों में बतौर टेस्‍ट ओपनर नवजोत सिंह सिधू ने 8 शतक लगाए हैं।