ICC will probe Umar Akmal’s World Cup 2015 fixing claim
Umar Akmal (File Photo) © AFP

पाकिस्‍तान के बल्‍लेबाज उमर अकमल ने बीते दिनों बयान दिया था कि उन्‍हें साल 2015 में भारत के खिलाफ मैच से पहले स्‍ट्टेबाजों ने संपर्क किया था। अकमल को ये ऑफर दिया गया था कि अगर वो इस मैच में नहीं उतरेंगे तो उन्‍हें दो लाख यूएस डॉलर दिए जाएंगे। इस मामले में अब आईसीसी की एंटी करप्‍शन यूनिट जांच शुरू करने जा रही है।

डेक्कन क्रॉनिकल की खबर के मुताबिक आईसीसी इस बात की जांच करेगी कि साल 2015 विश्‍व कप के दौरान उमर अकमल ने उन्‍हें इस घटना की जानकारी दी थी या नहीं। अगर नहीं दी थी तो उन्‍होंने ऐसा क्‍यों नहीं किया।

आईसीसी के एंटी करप्‍शन कोड ऑफ कंडक्‍ट के लेवल 2.4.4 और 2.4.5 के तहत सट्टेबाजों द्वारा संपर्क किए जाने की स्थिति में खिलाड़ी आईसीसी को इसकी जानकारी देने के लिए बाध्‍य है, ऐसा नहीं करने पर कम से कम पांच साल की सजा का प्रावधान है।

पाकिस्‍तान के समा टीवी से बातचीत के दौरान उमर अकमल ने कहा था कि उन्‍हें बल्‍लेबाजी के दौरान दो गेंद छोड़ने के लिए दो लाख डॉलर का ऑफर दिया गया था। इसके अलावा भारत के खिलाफ मैच में नहीं उतरने का भी प्रलोभन उन्‍हें दिया गया था। चैनल से बातचीत के दौरान उमर अकमल ने कहा था कि सट्टेबाज चाहते थे कि वो कोई  बहाना बनाकर मैच में न उतरें।

अकमल का टीवी चैनल को कहना था कि पहले भी कई बार इसी प्रकार के प्रलोभन दिए जाते रहे हैं, लेकिन उन्‍होंने कभी इस तरह की चीजों पर ज्‍यादा ध्‍यान नहीं दिया। मैं अपने देश के प्रति ईमानदार हूं। ऐसे लोगों को मैं कहता हूं कि मुझसे संपर्क करने का प्रयास न करें।