IPL 2019: KL Rahul, Sam Curran shines as Kings XI Punjab beat Chennai Super Kings by 6 wickets
KL Rahul @BCCI

ओपनर केएल राहुल (71) और क्रिस गेल के बीच पहले विकेट के लिए हुई 108 रन की साझेदारी की बदौलत किंग्‍स इलेवन पंजाब ने आईपीएल के अपने अंतिम लीग मैच में चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स को 6 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही पंजाब ने जीत से  मौजूदा लीग का समापन किया।

पंजाब इस प्‍वाइंटस टेबल में 14 मैचों में 12 अंक लेकर छठे स्थान पर रहा जबकि चेन्नई के 14 मैचों में 18 अंक हैं और इससे उसने शीर्ष दो में अपना स्थान तय कर फाइनल में पहुंचने के दो मौके सुनिश्चित कर दिए।

पढ़ें: विराट कोहली, डिविलियर्स से बहुत कुछ सीखा है: शिमरोन हेटमेयर

चेन्‍नई की ओर से रखे गए 171 रन के लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी पंजाब की टीम ने 12 गेंद बाकी रहते 4 विकेट पर 173 रन बनाए। पंजाब की 14 मैचों में ये छठी जीत है जबकि प्‍लेऑफ में पहुंच चुकी चेन्‍नई की 14 मैचों में ये पांचवीं हार है।

लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी पंजाब की शुरुआत धमाकेदार रही। ओपनर केएल राहुल और क्रिस गेल ने 10.3 ओवर में 108 रन की साझेदारी की। राहुल ने 19 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया।

खतरनाक दिख रही इस साझेदारी को अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने तोड़ा। हरभजन की गेंद पर राहुल को इमरान ताहिर ने कैच किया। राहुल ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 36 गेंदों पर 7 चौके और 5 छक्‍के लगाए।

पढ़ें: अश्विन ने जीता टॉस, चेन्नई के खिलाफ पहले गेंदबाजी करेगी पंजाब

राहुल के आउट होने के बाद अगली गेंद पर गेल भी हरभजन के शिकार हो गए। भज्‍जी ने गेल को लॉन्‍ग ऑन पर स्‍थानापन्‍न फील्‍डर ध्रुव शौरी के हाथों लपकवाया। गेल 28 गेंदों पर 28 रन बनाए। गेल ने अपनी इस पारी में दो चौके और दो छक्‍के लगाए।

मयंक अग्रवाल को डीप स्‍क्‍वॉयर लेग पर हरभजन ने रविंद्र जडेजा के हाथों कैच कराकर पंजाब को तीसरा झटका दिया। मयंक 6 गेंदों पर 7 रन ही बना सके। निकोलस पूरन ने आते ही हाथ दिखाने शुरू कर दिए। उन्‍होंने 22 गेंदों पर 36 रन की पारी खेली। जडेजा की गेंद पर पूरन को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने कैच किया।

मनदीप सिंह 11 और सैम कर्रन 6 रन पर नाबाद लौटे। चेन्‍नई की ओर से हरभजन ने तीन जबकि जडेजा ने एक विकेट झटका।

डु प्‍लेसिस के 96 और रैना के अर्धशतक से चेन्‍नई ने 170 रन बनाए थे

अनुभवी सलामी बल्‍लेबाज फाफ डु प्‍लेसिस (96) और सुरेश रैना (53) के अर्धशतक की बदौलत चेन्‍नई ने पंजाब से पहले बल्‍लेबाजी का न्‍यौता पाकर निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट पर 170 रन बनाए थे। डु प्‍लेसिस ने अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान 55 गेंदों पर 10 चौके और 4 छक्‍के लगाए।

किंग्‍स इलेवन पंजाब ने टॉस जीतकर चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स को पहले बल्‍लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। चेन्‍नई की ओर से पारी की शुरुआत फाफ डु प्‍लेसिस और शेन वॉटसन ने की।

पंजाब के कप्‍तान आर अश्विन ने मैच का पहला ओवर मिस्‍ट्री बॉलर हरप्रीत बरार से कराई। बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज बरार के इस ओवर से कुल सात रन आए जिसमें वॉटसन के आखिरी गेंद पर लगाया गया शानदार चौका भी शामिल था।

पढ़ें: होप-जॉन कैंपबेल ने बनाई वनडे क्रिकेट में पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी

वॉटसन के रूप में चेन्‍नई ने अपना पहला विकेट 4.1 ओवर में गंवाया। उस समय चेन्‍नई का कुल स्‍कोर 30 रन था। अनुभवी ओपनर वॉटसन युवा तेज गेंदबाज सैम कर्रन की गेंद को थर्ड मैन की ओर खेलना चाहते थे लेकिन गेंद और बल्‍ले के बजाय स्‍टंप पर जा लगी। वॉटसन को 7 रन के निजी योग पर बोल्‍ड होकर पवेलियन
लौटना पड़ा।

पावरप्‍ले के अंदर वॉटसन का विकेट गंवाने के बाद डु प्‍लेसिस को बाएं हाथ के अनुभवी बल्‍लेबाज सुरेश रैना का साथ मिला। दोनों दूसरे विकेट के लिए 120 रन की साझेदारी कर कुल स्‍कोर को 150 रन तक ले गए।

34 गेंदों पर अर्धशतक पूरा करने वाले रैना को कर्रन ने अपना दूसरा शिकार बनाया। रैना को शॉर्ट फाइन लेग पर मोहम्‍मद शमी ने कैच किया। रैना ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 38 गेंदों पर 5 चौके और 2 छक्‍के लगाए।

चेन्‍नई का तीसरा विकेट डु प्‍लेसिस के रूप में गिरा। शतक की ओर बढ़ रहे डु प्‍लेसिस युवा पेसर कर्रन की यॉर्कर को समझ नहीं पाए और गेंद विकेटों पर जाकर लगी। इस तरह डु प्‍लेसिस सिर्फ 4 रन से अपना शतक चूक गए।

अंबाती रायडू कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए। उन्‍हें शमी की गेंद पर मनदीप सिंह ने लपका। रायडू ने एक रन का योगदान दिया। केदार जाधव भी शमी की गेंद पर बोल्‍ड हो गए। जाधव अपना खाता भी नहीं खोल सके।पंजाब की ओर से कर्रन ने सबसे अधिक तीन जबकि शमी ने दो विकेट लिए।