Let’s not get too personal: Mahela Jayawardene on social media backlash after Sri Lanka’debacle in Asia Cup
Mahela Jayawardene (File Photo) © Getty Images

एशिया कप 2018 की शुरुआत होने के तीसरे ही दिन श्रीलंका की टीम इस टूर्नामेंट से बाहर हो गई। पहले 15 सितंबर को बांग्‍लादेश ने श्रीलंका को 137 रनों से मात दी, जिसके बाद 17 सितंबर को अफगानिस्‍तान ने भी श्रीलंका को 91 रनों से हरा दिया। एक समय था जब श्रीलंका की टीम एशिया की चैंपियन हुआ करती थी। वो पांच बार एशिया कप पर कब्‍जा कर चुकी है। भारत ने छह बार इस टूर्नामेंट पर कब्‍जा किया है। अन्‍य कोई टीम एशिया कप जीतने के मामले में भारत और श्रीलंका के आसपास भी नहीं हैं।

श्रीलंका की टीम ने साल 1996 में अर्जुन राणातुंगा की कप्‍तानी में विश्‍व कप का खिताब अपने नाम किया था। एक विश्‍व विजेता टीम का इतना खराब प्रदर्शन श्रीलंका के फैन्‍स बर्दाश्‍त नहीं कर पा रहे हैं। मौजूदा समय में श्रीलंका की टीम अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। साल 2015 विश्‍व कप के बाद कुमार संगाकारा और महेला जयवर्धने के क्रिकेट से संन्‍यास लेने के बाद श्रीलंका की टीम सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटिंग नेशन की लिस्‍ट में अपनी जगह खोने लगी।

एशिया कप 2018 में बांग्‍लादेश और अफगानिस्‍तान से हारने के बाद श्रीलंकाई टीम अपने ही देश में लोगों के गुस्‍से का शिकार हो रही है। लगातार सोशल मीडिया पर लोग टीम की आलोचना कर रहे हैं। श्रीलंका ने पिछले साल जनवरी से अबतक खेले 40 में से 30 मैच गंवाए हैं। सोशल मीडिया पर एंजेलो मैथ्यूज एंड कंपनी को ‘फ्लॉप ऑफ एशिया’ भी कहा जा रहा है। सोशल मीडिया ट्रोल को देखते हुए अब टीम के बचाव में पूर्व श्रीलंकाई खिलाड़ी महेला जयवर्धने आगे आए हैं।

जयवर्धने ने ट्विटर पर लिखा, “मैं सोशल मीडिया पर श्रीलंकाई टीम के खिलाफ बनाए जा रहे जोक और आलोचना को देख रहा हूं..हां मैं मानता हूं कि हमारी टीम ने खराब प्रदर्शन किया, लेकिन हमें इसे लेकर इतना पर्सनल नहीं होना चाहिए। क्रिकेट महज एक खेल है। हम अपनी कमियों को सुधारने का प्रयास करेंगे। यही तरीका है आगे बढ़ने का।”

बता दें कि