वेस्‍टइंडीज के दिग्‍गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग (Michael Holding) ने आईसीसी के गेंद पर थूक लगाने को बैन करने के प्रस्‍ताव पर सवाल उठाए. ईएसपीएन क्रिकइन्‍फो से बातचीत के दौरान होल्डिंग ने कहा, “मैंने पढ़ा है कि आईसीसी मैच के दौरान गेंद पर थूक के इस्‍तेमाल पर बैन लगाने पर विचार कर रही है. ऐसा कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते असर को देखते हुए किया जा रहा है.”

“गेंद पर थूक की जगह किसी अन्‍य पदार्थ को लगाने की बात कही जा रही है ताकि उसकी चमक को बरकरार रखा जा सके. मुझे आईसीसी की इस सोच के पीछे की वजह समझ नहीं आती है. जबतक हम मैदान में खेलने के लिए दोबारा पहुंचेंगे तो खिलाड़ियों बायो-रिक्‍योर माहौल में खेलना होगा.”

माइकल होल्डिंग (Michael Holding) ने कहा, “आईसीसी का कहना है कि मैदान में खेलने के लिए उतरने से पहले प्रत्‍येक खिलाड़ी को कम से कम दो सप्‍ताह तक खुद को अन्‍य लोगों से अलग रखना होगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके की सब कुछ ठीक ठाक है. मैच से जुड़े प्रत्‍येक व्‍यक्ति को ऐसा करना होगा.”

उन्‍होंने कहा, “जब आप यह कह रहे हैं कि हर कोई जैविक रूप से सुरक्षित है. आप एक ही होटल में ठहर रहे हैं. आप कहीं आ जा भी रहीं रहे हैं. ऐसी परिस्थिति में भी आप थूक के इस्‍तेमाल को लेकर कैसे चिंतित हो सकते हैं.”

माइकल होल्डिंग (Michael Holding) ने कहा, “आपके मुताबिक उन परिस्थितियों में खेलने वाले खिलाड़ी कोविड-19 से दूर रहेंगे. जब आईसीसी को ही दो सप्‍ताह के समय पर विश्‍वास नहीं है तो वो अन्‍य खिलाड़ियों के जीवन को मुश्किल में क्‍यों डाल रही है. आप ऐसी परिस्थिति में क्रिकेट खेलना ही क्‍यों चाहते हो. आप सुरक्षित हैं या फिर नहीं हैं. अनुमान के आधार पर मैचों का आयोजन नहीं होना चाहिए.”

पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज वकार युनुस ने भी माइकल होल्डिंग का समर्थन किया.