Rahul Dravid: There can’t be blanket policy on workload management
Rahul-Dravid @ PTI

पूर्व कप्तान और इंडिया ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने बुधवार को कहा कि कार्यभार प्रबंधन के मामले में सभी खिलाड़ियों के लिए एक सी नीति नहीं बनाई जा सकती और खिलाड़ी इतने समझदार हैं कि उन्हें सीमा तय करना आता है।

पढ़ें: कैपिटल्स के लिए अधिक से अधिक विकेट लेना लक्ष्य : इशांत शर्मा

आईपीएल में भाग ले रहे विश्व कप जाने वाले खिलाड़ियों के कार्यभार प्रबंधन को लेकर काफी चर्चा हो रही है। द्रविड़ ने कहा कि अधिकांश मामलों में खिलाड़ियों को पता है कि उन्हें कैसे संतुलन रखना है ।

द्रविड़ ने ईएसपीएन क्रिकइंफो के एक कार्यक्रम से इतर कहा, ‘अधिकांश खिलाड़ी इन मामलों में काफी समझदार हैं। उन्हें पता है कि क्या करना है। मुझे नहीं लगता कि खिलाड़ी इसे लेकर कोई जोखिम लेंगे। मैने पैट्रिक कमिंस का बयान पढा जिन्होंने कहा था कि लगातार खेलते हुए वह बेहतर महसूस करते थे, बजाय आराम के बाद वापसी करने के।’

पढ़ें: ‘वर्ल्‍ड कप से पहले ऑस्ट्रेलिया से हारना भारत के लिए चेतावनी’

उन्होंने कहा, ‘हर खिलाड़ी के मामले में यह अलग है। ऐसा नहीं हो सकता कि सभी को आराम की जरूरत है। हमें खिलाड़ियों पर भरोसा करना होगा। उन्हें पता है कि क्या करना है।’

वहीं संजय मांजरेकर ने कहा कि क्रिकेट बोर्ड को विश्व कप के कारण खिलाड़ियों को आराम देने का दबाव आईपीएल टीमों पर नहीं बनाना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘आईपीएल में कोई बाहरी दखल नहीं होना चाहिए। यह टीमों पर निर्भर होना चाहिए। क्रिकेट बोर्ड को आईपीएल टीमों पर दबाव नहीं बनाना चाहिए कि खिलाड़ियों को आराम दिया जाए।’