Virat Kohli, Ravi Shastri’s roles must be assessed if India don’t win remaining Tests: Sunil Gavaskar
Ravi Shastri and Virat kohli

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि अगर भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बाकी बचे दो टेस्ट मैचों में जीत दर्ज करने में नाकाम रहता है तो विराट कोहली और रवि शास्त्री की कप्तान और कोच के रूप में भूमिका की समीक्षा की जानी चाहिए।

भारत ने पर्थ में दूसरा टेस्ट मैच में 146 रन से गंवाया जिससे ऑस्ट्रेलिया चार मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर करने में सफल रहा। भारत इस मैच में चार विशेषज्ञ तेज गेंदबाजों के साथ उतरा जबकि ऑस्ट्रेलिया ने स्पिनर नाथन लियोन को चुना जो आखिर में दोनों टीमों के बीच मुख्य अंतर पैदा कर गये।

Video: पर्थ टेस्ट से दौरान भिड़े इशांत शर्मा-रविंद्र जडेजा

गावस्कर टीम प्रबंधन की चयन को लेकर पसंद से प्रभावित नहीं थे।

उन्होंने कहा, ‘‘हम इसे देख रहे हैं – दक्षिण अफ्रीका दौरे से ही चयन को लेकर बड़ी चूक की जा रही है। टीम को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है क्योंकि वह मैच गंवा रही है। अगर सही चयन किया जाता तो टीम इन मैचों को जीत सकती थी। ’’

भारत ने पर्थ में टीम में स्पिनर नहीं रखकर गलती की : मांजरेकर

गावस्कर ने आजतक से कहा, ‘‘उन्हें उनकी टीम का संयोजन देखना चाहिए और फिर सोचना चाहिए कि कहां गलती हुई। अगर वे ऐसा करते हैं तो निश्चित तौर पर अगले दो मैच जीत सकते हैं। अगर वह स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के बिना खेल रही इस ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ भी जीत दर्ज नहीं कर पाते हैं तो फिर चयनकर्ताओं को विचार करने की जरूरत है। हमें वर्तमान के कप्तान, कोच और सहयोगी स्टाफ से कोई फायदा मिल रहा है।’’