IPL 2019, MI VS CSK: MS Dhoni becomes most Successful wicket-keeper in the IPL
MS Dhoni @BCCI

चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ इंडियन प्रीयिमर लीग (आईपीएल) के फाइनल में अपने नाम एक खास उपलब्धि हासिल कर ली है। धोनी ने इस ऐतिहासिक कारनामे को विकेट के पीछे अंजाम दिया है।

पढ़ें: सुपरकिंग्‍स ने लगाया जीत का ‘शतक’, मुंबई के बाद दूसरी टीम बनी

दरअसल कैप्‍टन कूल के नाम से विख्‍यात धोनी ने बतौर विकेटकीपर 132 शिकार किए हैं जो आईपीएल में किसी विकेटकीपर का सर्वाधिक है। इससे पहले वर्तमान में कोलकाता नाइटराइडर्स की कप्‍तानी कर रहे दिनेश कार्तिक ने 131 शिकार किए थे जो सर्वाधिक था।

धोनी आईपीएल में अपना 190वां मैच खेल रहे हैं। खिताबी मुकाबले में धोनी ने पेसर शार्दुल ठाकुर की गेंद पर मुंबई के सलामी बल्‍लेबाज क्विंटन डी कॉक को कैच कर अपना 131वां शिकार पूरा किया। इसके बाद माही ने दीपक चाहर की गेंद पर मुंबई के कप्‍तान रोहित शर्मा का बेहतरीन कैच पकड़कर दिनेश कार्तिक के विकेट के पीछे सर्वाधिक शिकार करने के रिकॉर्ड को ध्‍वस्‍त किया।

पढ़ें: फैन्‍स में IPL संक्रमण की तरह फैल रहा है: सचिन तेंदुलकर

उन्‍होंने 183 पारियों में अब तक 94 कैच और 38 स्‍टंपिंग की है जबकि कार्तिक के नाम 182 मैचों की 166 पारियों में 101 कैच और 30 स्‍टंपिंग की है।

इस लिस्‍ट में रॉबिन उथप्‍पा तीसरे और पार्थिव पटेल चौथे स्‍थान पर है। उथप्‍पा ने इस सीजन में कोलकाता नाइटराइडर्स की ओर हिस्‍सा लिया था। उन्‍होंने 177 मैचों की 114 पारियों में 90 बल्‍लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई है जिसमें 58 कैच और 32 स्‍टंपिंग शामिल है।

पार्थिव पटेल वर्तमान में मुंबई इंडियंस की ओर से खेल रहे थे। उन्‍होंने 132 मैचों की 122 पारियों में कुल 82 शिकार किए हैं जिसमें 66 कैच और 16 स्‍टंपिंग शामिल है।

पढ़ें: मुंबई और चेन्‍नई आईपीएल के सीरियल विनर हैं: एबी डीविलियर्स

धोनी की टीम रिकॉर्ड 8वीं बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है। जो भी टीम इस फाइनल को जीतेगी वो इतिहास कायम करेगी। दोनों टीमें अब तक 3-3 बार आईपीएल खिताब जीत चुकी हैं। ऐसे में जो भी टीम इस फाइनल को जीतेगी वो रिकॉर्ड चौथी बार ट्रॉफी अपने नाम करेगी।