ICC should standardise one brand of ball in Tests; Says Waqar Younis

पाकिस्तान के महान तेज गेंदबाज वकार यूनिस ने गुरुवार को कहा कि इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) को टेस्ट क्रिकेट में केवल एक ही ब्रांड की गेंद के इस्तेमाल पर विचार करना चाहिए क्योंकि तेज गेंदबाजों को दुनिया भर में अलग अलग परिस्थितियों में खेलते हुए सामंजस्य बिठाने में मुश्किल होती है।

पाकिस्तान क्रिकेट टीम हाल के इंग्लैंड दौरे पर ड्यूक गेंद से खेली जिसमें उसे तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला 0-2 से गंवानी पड़ी।

मार्नस को टी20 डेब्यू के लिए करना पड़ सकता है इंतजार: फिंच

यूनिस ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के लिये एक कॉलम में लिखा, ‘मैं कई वर्षों तक ड्यूक गेंद का बड़ा हिमायती रहा लेकिन मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट के लिए पूरी दुनिया में केवल एक ही ब्रांड की गेंद का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।’

उन्होंने लिखा, ‘यह मायने नहीं रखता कि कौन सा ब्रांड लेकिन आईसीसी को यह फैसला करना चाहिए। गेंदबाजों के लिये दुनिया भर में विभिन्न प्रकार की गेंदों का इस्तेमाल कर सामंजस्य बिठाना मुश्किल होता है।’

ड्यूक के अलावा कूकाबुरा और एसजी गेंद अंतरराष्ट्रीय मैचों में इस्तेमाल की जाती है। भारतीय टीम एसजी गेंदों का इस्तेमाल करती है तो इंग्लैंड, आयरलैंड और वेस्टंडीज ड्यूक गेंद और अन्य देश कूकाबुरा का इस्तेमाल करते हैं।

सौराष्ट्र के मशहूर क्रिकेट कोच बाबी का निधन, SCA ने जताया शोक

आईसीसी ने कोविड-19 महामारी के चलते गेंद को चमकाने के लिये लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है। यूनिस ने कहा कि इंग्लैंड में मौसम के कारण इससे कोई परेशानी नहीं हुई।

उन्होंने कहा, ‘दोनों टीमों को हालिया टेस्ट श्रृंखला के दौरान सबसे बड़ी चुनौती लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध से हुई। मुझे नहीं लगता की इंग्लैंड में मौसम को देखते हुए वास्तव में यह कोई बड़ा मुद्दा था।’