India well play Pakistan as soon as political situation gets better
MS Dhoni (getty images)

भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज का मामला जल्द सुलझता नहीं दिख रहा है। जहां पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मैनेजिंग डायरेक्टर वसीम खान ने कहा है कि पाकिस्तान को ऐसा कुछ करना चाहिए जिससे भारत उनसे क्रिकेट खेलने के लिए कहे। वहीं जवाब में बीसीसीआई ने साफ किया कि दोनों देशों के बीच के राजनैतिक हालात सही होने तक कोई भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं होगी।

ये भी पढ़ें: ‘ऐसी परिस्थितियां बनानी होंगी जिसमें भारत को हमसे खेलने पर मजबूर होना पड़े’

हिंदुस्तान टाइम्स ने बीसीसीआई अधिकारी के हवाले से लिखा, “जब हालात सही होंगे तो किसी को भी दोनों देशों के बीच क्रिकेट संबंध शुरू करने में कोई परेशानी नहीं होगी लेकिन वो दिन अभी बहुत दूर है। पीसीबी के चेयरमैन एहसान मनी को पसंद किया जा रहा है और वो पहले दो चेयरमैने शहरयार खान और नजम सेठी से अलग हैं। लेकिन मनी भी हालातों से बंधे हुए हैं। सब कुछ आखिर में दोनों देशों के बीच के राजनैतिक संबंधों पर आकर खत्म होता है।”

ये भी पढ़ें: मुझे नहीं लगता कि मैं विराट कोहली के स्‍तर का बल्‍लेबाज हूं: बाबर आजम

बीसीसीआई अधिकारी ने वसीम खान के बयान पर प्रतिक्रिया दी। उनका कहना है कि वसीम को द्विपक्षीय संबंधों के बारे करने से पहले पीसीबी की स्थिति पर फिर से विचार करने की जरूरत है। उन्होंने कहा, “ये वसीम खान को समझने की जरूरत है कि उन्हें पहले अपनी स्थिरता पर ध्यान देना चाहिए। जैसा कि उनके अपने पीएम ने कहा, पाकिस्तान में बड़े पदों पर छोटे लोग बैठे हैं और इस तरह के बयानों उसी सिंड्रोम से आते हैं।”