Mahmudullah: I like captaincy as it is challenging and also a huge honour
Mahmudullah (File Photo) © Getty Images

एशिया कप 2018 के तुरंत बाद अब बांग्‍लादेश की टीम को अपने घर पर पहले जिम्‍बाब्‍वे और फिर वेस्‍टइंडीज का सामना करना है। बांग्‍लादेश के कई अनुभवी खिलाड़ी इस वक्‍त चोट से जूझ रहे हैं। ऐसे में टीम के सामने नेतृत्‍व संकट की स्थिति भी साफ नजर आ रही है।

टी-20 में शाकिब अल असल बांग्‍लादेश के रेगुलर कप्‍तान हैं, लेकिन उंगली की चोट के कारण उनका अगले तीन महीने तक मैदान में उतर पाना मुश्किल नजर आ रहा है। ऐसे में टी-20 क्रिकेट में मौजूदा सीरीज के लिए टीम की कमान ऑलराउंडर महमूदुल्लाह को दी जा सकती है।

साल की शुरुआत में श्रीलंका के खिलाफ होम सीरीज और फिर निदहास ट्रॉफी के दौरान महमूदुल्‍लाह टीम की कमान संभाल चुके हैं। उंगली की चोट के कारण ही उस वक्‍त शाकिब टीम से बाहर हुए थे। हालांकि निदहास ट्रॉफी के अंत में वो एक बार फिर टीम का हिस्‍सा बन गए थे

महमूदुल्‍लाह ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, “मुझे कप्‍तानी करना काफी अच्‍छा लगता है, ये एक चैलेंजिंग जॉब है। टीम की कप्‍तानी करने का मौका मिलना मेरे लिए गर्व की बात भी है। मुझे जब भी ऐसा करने का मौका मिलता है तो मैं आगे बढ़कर ये जिम्‍मेदारी लेना पसंद करता हूं।”

शाकिब के अलावा सलामी बल्‍लेबाज तमीम इकबाल, मशरफे मुर्तजा भी इस वक्‍त चोट से जूझ रहे हैं। महमूदुल्‍लाह भी इस वक्‍त मांसपेशियों में दर्द की शिकायत से जूझ रहे हैं। उन्‍होंने कहा, “चोटें लगती रहेंगी, लेकिन हमें इसके साथ भी आगे बढ़ना होगा। फिलहाल मैं आराम कर रहा हूं और अच्‍छा महसूस कर रहा हूं। मुझे उम्‍मीद है कि मैं समय रहते ठीक हो जाउंगा।”