Ricky Ponting: Jofra Archer’s hostile spell brought back memories of 2005 Ashes series
Ricky Ponting with Steve Smith @twitter

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने कहा है कि इंग्लैंड के युवा पेसर जोफ्रा आर्चर की गेंदबाजी ने उन्हें 2005 एशेज सीरीज की याद दिला दी। उस एशेज सीरीज में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टीव हार्मिसन ने दमदार गेंदबाजी की थी और पोंटिंग, मैथ्यू हेडन, जस्टिन लैंगर को चोटिल कर दिया था।

पढ़ें: लैंगर बोले- मुझे हैरानी नहीं होगी यदि ‘नेक गार्ड’ को पहनना अनिवार्य कर दिया जाए

पोटिंग ने ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया’ की वेबसाइट को बताया, ‘वह सुबह बहुत खतरनाक थी और कल कुछ पुरानी यादें ताजा हो गई। मुझे याद है जब मुझे गेंद लगी तब माइकल वॉन ने अपने खिलाड़ियों से कहा कि कोई भी पोंटिंग के पास जाकर उसका हाल नहीं पूछेगा। मेरे लिए यह सही था क्योंकि मैं भी उन्हें अपने से दूर रहने के लिए कहता।’

शनिवार को लॉर्ड्स टेस्ट के चौथे दिन आर्चर की गेंद स्टीव स्मिथ को लगी जिससे वह थोड़ी देर के लिए मैदान से बाहर गए। हालांकि, वह वापस बल्लेबाजी करने आए और 92 रन की पारी खेली।

पोंटिंग ने कहा, ‘मैं नहीं समझता कि यह स्पैल सीरीज का रुख तय करेगी। उन्होंने फिर 92 रन बनाए, मुझे पता था कि वह 70 के करीब रन बनाएंगे और अगर अब गेंदबाज स्मिथ पर ज्यादा अटैक करेंगे तो मुझे आश्चर्य नहीं होगा।’

पढ़ें: गॉल टेस्ट: कप्तान करुणारत्ने के शतक से श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया

पोंटिंग ने कहा, ‘आर्चर हालांकि, स्मिथ को आउट नहीं कर पाए। स्मिथ ने अपना विकेट नहीं गंवाया और उनका समाना किया। मैं मान रहा हूं कि उनके गले पर लगी चोट ठीक है और वह दूसरी पारी में फिर से अच्छी बल्लेबाजी करेंगे। उन्हें कोई डर नहीं होगा क्योंकि आप हर रोज यही करते हैं। आप नेट में गेंदबाजों का सामना करते हैं और आपको हमेशा चोट लगती रहती है, लेकिन कोई भी चीज आपकी मानसिकता को नहीं बदलती है।’