Virat Kohli: Hardik Pandya has a chance to become a legend by forgetting past dispute
Virat Kohli, Hardil Pandya © AFP

माउंट मानगुनई वनडे जीतकर न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त बनाने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने माना कि ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या के आने से टीम का संतुलन बेहतर हुआ है।

कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “मुझे पांड्या के टीम में शामिल होने की खुशी है। वो एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो टीम को संतुलन देते हैं और उन्होंने जिस तरह की गेंदबाजी की वो ये दर्शाता है कि वो अपने कौशल को बेहतर करने के लिए बहुत मेहनत कर रहे थे। वो मैदान पर उन चीजों पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहे थे जो उन्हें करनी थी।”

ये भी पढ़ें: जब मैं 19 साल का था तब मैं शुभमन गिल का दस प्रतिशत भी नहीं था: विराट कोहली

कोहली ने कहा, “पांड्या ने शुरुआत से ही गंभीरता से गेंदबाजी की और दो विकेट भी लिए, जो उस समय बहुत महत्वपूर्ण थे। वो ऐसे खिलाड़ी हैं जो तीनों विभाग में अपना योगदान देते हैं और हर टीम को ऐसे खिलाड़ी की दरकार होती है। जब वो टीम में आते हैं तो आप देख सकते हैं कि हमारी बल्लेबाजी और गेंदबाजी अधिक संतुलित नजर आती है। वो सही मानसिकता के साथ टीम में शामिल हुए हैं और मुझे उम्मीद है कि वो लगातार बेहतर होंगे।”

विवाद को भुला बड़े खिलाड़ी बन सकते हैं पांड्या

कप्तान ने ये भी माना कि पांड्या के पास पुराने विवाद को भुलाकर एक दिग्गज खिलाड़ी बनने का मौका है। कोहली ने कहा, “जिंदगी में किसी भी स्थिति में आप दो ही चीजें कर सकते हैं, आप पूरी तरह से निराश हो सकते हैं या आप उस स्थिति से सीख लेते हुए उससे प्रेरणा ले सकते हैं कि अगर हमनें कुछ गलत किया है तो हमें उसे ठीक करना है। अगर आप एक क्रिकेटर हैं, तो क्रिकेट से ज्यादा प्यारी चीज आपके कुछ नहीं है। आप अपनी पूरी ताकत तैयारी करने में लगाते हैं और अगर आप इस खेल को सम्मान देंगे तो यह खेल आपको बहुत कुछ देगा।”

ये भी पढ़ें: भारत के खिलाफ आखिरी दो वनडे के लिए न्यूजीलैंड टीम में शामिल हुए जिमी नीशम, टॉड एस्टल

उन्होंने कहा, “इसमें कोई रॉकेटसाइंस नहीं है कि आपको कुछ अधिक करने की जरूरत है। अगर ऐसी कोई घटना होती है, तो इससे जो सकारात्मक रूप से बाहर आते हैं, उनका पूरा करियर बदल जाता है। हमने इतिहास में काफी लोगों के साथ ऐसा होते हुए देखा है, तो मुझे उम्मीद है कि वह उस राह पर जाएं और अपने करियर को अलग तरीके से सुधारे और एक मजबूत क्रिकेट बनकर निकले। मुझे लगता है कि वह ऐसा कर सकता है।”

(आईएएनएस)