आईपीएल 2015 में किसी गेंदबाज ने हैट्रिक नहीं ली
आईपीएल 2015 में किसी गेंदबाज ने हैट्रिक नहीं ली

साल 2008 में जब से आईपीएल की शुरुआत हुई है इसे बल्लेबाजों का खेल माना जाता रहा है। दर्शकों को भी चौके-छक्के देखने में ही मजा आता है लेकिन धीरे-धीरे गेंदबाजों ने इस प्रारूप के अनुरूप खुद को ढाला और नतीजा शानदार रहा। जब दोनों पक्ष बराबर पर हो तब ही एक रोमांचक मुकाबला देखने को मिलता है। नौंवो आईपीएस सत्र की विजेता टीम सनराइजर्स की जीत में उसके गेंदबाजों का बहुत अहम योगदान था। आज हम आपकों बताएंगे उन प्रतिभावान गेंदबाजों के बारे में जिन्होंने बल्लेबाजों के इस प्रारूप में ना सिर्फ बेहतरीन गेंदबाजी की बल्कि हैट्रिक भी ली।

लक्ष्मीपैथी बालाजी (चेन्नई सुपर किंग्स): पूर्व भारतीय खिलाड़ी लक्ष्मीपैथी बालाजी वह पहले गेंदबाज हैं जिन्होंने आईपीएल में हैट्रिक ली। साल 2008 में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ लिए खेलते हुए आईपीएल सत्र की पहली हैट्रिक दर्ज की थी। बालाजी ने मैच के आखिरी निर्णायक ओवर में पहले इरफान पठान फिर पीयूष चावला और आखिर में वीआरवी सिंह को आउट कर अपनी टीम को 18 रन से जीत दिलाई थी। इस हैट्रिक के साथ बालाजी ने अपना पांच विकेट हॉल भी पूरा किया था। फिलहाल बालाजी कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के गेंदबाजी कोच की भूमिका निभा रहे हैं। [ये भी पढ़ें: आईपीएल 2017: नई रणनीति के साथ उतरेगी कोलकाता नाइट राइडर्स]

अमित मिश्रा (दिल्ली डेयरडेविल, डेक्कन चार्जर्स, सनराइजर्स हैदराबाद): भारतीय टीम के सफल लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने एक नहीं बल्कि तीन बार आईपीएल में हैट्रिक लेने का कारनामा किया है। मिश्रा ने सबसे पहली हैट्रिक साल 2008 के पहले सत्र में ली। जब उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल के लिए खेलते हुए डेक्कन चार्जर्स के तीन बल्लेबाजों को लगातार आउट किया था। उन्होंने द्वारका रवि तेजा, प्रज्ञान ओझा और आर पी सिंह को आउट कर अपनी पहली हैट्रिक ली। दिल्ली टीम यह मैच 12 रन से जीता था और मिश्रा ने 12 रन पर पांच विकेट लेकर अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड बनाया था।

अमित मिश्रा ने 2011 आईपीएल सत्र में एक बार फिर हैट्रिक दर्ज की। इस बार वह डेक्क्न चार्जर्स की तरफ से खेल रहे थे। मिश्रा ने यह हैट्रिक किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ रॉयन मैकलैरेन, मनदीप सिंह और रॉयन हैरिस को 16वें ओवर में आउट कर अपनी टीम को 82 रनों से बड़ी जीत दिलाई। मिश्रा की हैट्रिक एक्सप्रेस यहीं पर नहीं रुकी, उन्होंने आईपीएल की अपनी तीसरी हैट्रिक साल 2013 के आईपीएल सत्र में ली। गौरतलब है कि तीनों हैट्रिक मिश्रा ने अलग-अलग टीमों के लिए खेलते हुए ली हैं। इस बार सनराइजर्स के लिए खेलते हुए उन्होंने पुणे वॉरियर्स के भुवनेश्वर कुमार, राहुल शर्मा और अशोक डिंडा को आउट कर अपनी तीसरी हैट्रिक दर्ज की। [ये भी पढ़ें: आईपीएल 2017: किंग्स इलेवन पंजाब ने नीलामी में खेला बड़ा दांव]

माख्या नतीनी (चेन्नई सुपर किंग्स): हैट्रिक लेने वाले गेंदबाजों में अगला नाम है चेन्नई सुपर किंग्स के माख्या नतीनी का। साल 2008 के आईपीएल सत्र में नतीनी ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ खेलते हुए 5वें ओवर में सौरव गांगुली, देबव्रत दास और डेविड हसी को आउट किया। इस रोमांचक मैच में चेन्नई टीम 3 रन से जीती थी।

युवराज सिंह (किंग्स इलेवन पंजाब): युवराज सिंह को भारतीय टीम में पॉर्ट टाइम गेंदबाज के रूप में कई बार इस्तेमाल किया गया है। साउथ अफ्रीका में आयोजित इस आईपीएल सत्र में युवराज ने दो हैट्रिक ली थी। साल 2009 में युवराज ने पहली हैट्रिक रॉयल चैलेंजर बैंगलौर के खिलाफ और डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ अपनी दूसरी आईपीएल हैट्रिक ली थी। [ये भी पढ़ें: आईपीएल 2017: दिल्ली डेयरडेविल्स ने ऑलराउंडर्स को बनाया जीत का हथियार]

बैंगलौर के खिलाफ युवराज ने 11वें ओवर की आखिरी दो गेंदों पर रॉबिन उथप्पा और जैक कॉलिस को आउट किया। इसके बाद यूवी जब अपना अगला ओर डालने आए तो पहली ही गेंद पर उन्होंने मॉर्क बाउचर को पगबाधा आउट किया। युवराज ने बैंगलौर के खिलाफ हर्शेल गिब्बस, एंड्रयू साइमंडस और वेणुगोपाल राव को आउट कर अपनी दूसरी हैट्रिक दर्ज की।

रोहित शर्मा (डेक्कन चार्जर्स): मुंबई इंडियंस के मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा ने अपने आईपीएल सत्र की शुरुआत हैदराबाद टीम के साथ की थी। रोहित ने इस टीम से खेलते हुए हैट्रिक भी लगाई है। लंबे छक्के मारने के लिए हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत बतौर ऑफ स्पिनर की थी। गौरतलब है कि रोहित ने यह हैट्रिक मुंबई टीम के खिलाफ ली थी। रोहित ने अभिषेक नायर, हरभजन सिंह और जे पी ड्यूमिनी को आउट कर अपनी पहली हैट्रिक दर्ज की। [ये भी पढ़ें: आईपीएल 2017: गेंदबाजों पर दांव लगा क्या जीत हासिल कर पाएगी रॉयल चैलेंजर बैंगलौर]

प्रवीण कुमार (रॉयल चैलेंजर बैंगलौर): आईपीएल 2010 सत्र में बैंगलौर के गेंदबाज प्रवीण कुमार ने भी हैट्रिक ली थी। राजस्थान रॉयल के खिलाफ मैच में प्रवीण ने तीन लगातार विकेट लेकर यह कारनाम किया था। उन्होंने 17वें ओवर में डैमिन मॉर्टिन, सुमित नारवाल और पारस डोगरा को आउट कर हैट्रिक पूरी की।

अजीत चंडीला (राजस्थान रॉयल्स): राजस्थान रॉयल के गेंदबाज अजीत चंडीला ने आईपीएल में हैट्रिक लेने वाले गेंदबाज के रूप में भी अपनी पहचान बनाई है। चंडीला ने पुणे वॉरियर के खिलाफ मैच में जेसी रायडर, सौरव गांगुली और रॉबिन उथप्पा को आउट कर हैट्रिक दर्ज की।

सुनील नारायने (कोलकाता नाइट राइडर्स): शाहरुख खान की टीम कोलकाता के सबसे बेहतरीन गेंदबाज सुनील नारायने ने 2013 के आईपीएल सत्र में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ डेविड हसी, अजहर महमूद और गुरकीरत सिंह को आउट कर अपनी पहली हैट्रिक दर्ज की थी।

प्रवीण तांबे (राजस्थान रॉयल्स): प्रवीण तांबे ने साल 2014 के आईपीएल सत्र में राजस्थान की ओर से अपनी पहली हैट्रिक दर्ज की थी। उन्होंने कोलकाता के खिलाफ खेलते हुए मनीष पांडे, यूसुफ पठान और रॉयन टेन को आउट कर हैट्रिक पूरी की।

शेन वॉटसन (राजस्थान रायल्स): इस सूची में विदेशी खिलाड़ियों के नाम काफी कम हैं तो इसी क्रम में आईपीएल में हैट्रिक लेने वाले दूसरे विदेशी गेंदबाज है शेन वॉटसन। वॉटसन ने 2014 में हैदराबाद टीम के खिलाफ शिखर धवन, मोइस हैनरीक्यूस और कर्ण शर्मा को आउट कर अपनी पहली हैट्रिक पूरी की।

अक्षर पटेल (किंग्स इलेवन पंजाब): साल 2015 के आईपीएल सत्र में किसी भी गेंदबाज ने हैट्रिक नहीं ली। 2014 के बाद आईपीएल को अगली हैट्रिक मिली 2016 में, आईपीएल के नौंवे सत्र की सबसे पहली हैट्रिक ली अक्षर पटेल ने। पटेल ने गुजरात लायंस के खिलाफ खेलते हुए दिनेश कार्तिक, ड्येन ब्रॉवो और रवींद्र जडेजा को आउट कर 2016 आईपीएल की पहली और आखिरी हैट्रिक जड़ी।