India vs West Indies 2019: 5 West Indies players India need to be wary of in T20I series
Andre Russell, Shimron Hetmyer, Carlos Braithwaite, Sunil Nraine

भारतीय क्रिकेट टीम विश्‍व कप की निराशा को पीछे छोड वेस्‍टइंडीज दौरे के लिए रवाना हो चुकी है। विंडीज दौरे पर टीम इंडिया को 3 टी-20, तीन वनडे और 2 टेस्‍ट मैचो की सीरीज खेलनी है।

पढ़ें: ख्वाजा एजबेस्टन टेस्ट के लिए पूरी तरह फिट हैं  :  लैंगर

विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम दौरे की शुरुआत 3 अगस्‍त से टी-20 से करेगी। सीरीज के दो टी-20 मैच अमेरिका के फ्लोरिडा में खेले जाएंगे जबकि तीसरा और अंतिम मैच विंडीज में खेला जाएगा।

टी-20 में विंडीज की टीम बेहद मजबूत है। उसके पास कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो अकेले अपने दम पर मैच का पासा पलटने का माद्दा रखते हैं। आइए जानते हैं उन 5 चुनिंदा खिलाड़ियों के बारे में जिनसे क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में टीम इंडिया को सावधान रहना होगा।

निकोलस पूरन

23 वर्षीय बाएं हाथ के बल्‍लेबाज निकोलस पूरन लिमिटेड ओवर के क्रिकेट में बेहद खतरनाक खिलाड़ी माने जाते हैं। प्रतिभा के धनी पूरन निडर होकर खेलते हैं जिसकी टी-20 फॉर्मेट में जरूरत होती है।

पूरन इस समय शानदार फॉर्म में हैं। उन्‍होंने हाल में संपन्‍न टी-20 सीरीज में इंग्‍लैंड, बांग्‍लादेश और भारत के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया था। इन सीरीज में पूरन विंडीज की ओर से सर्वाधिक रन बनाने वाले शीर्ष दो बल्‍लेबाजों में शामिल रहे।

पढ़ें: वर्ल्ड चैम्पियनशिप टेस्ट क्रिकेट के लिए बहुत अच्छा है : स्टीव वॉ

पूरन क्षमता पर किसी को शक नहीं है। ये युवा खिलाड़ी आक्रामक रवैया अपनाकर विपक्षी गेंदबाजों को दबाव में लाने की कोशिश करता है। इसके अलावा मिडिल ओवर्स में अहम साझेदारी भी इसकी खूबी है जो विपक्षी खेमे के लिए चिंता का विषय बन सकता है।

यदि भारतीय टीम को इस सीरीज में सफलता दर्ज करनी है तो उसे इस युवा बल्‍लेबाज पर काबू पाना होगा जो विश्‍व कप 2019 के शानदार प्रदर्शन को इस सीरीज में भी जारी रखने पर नजरें गड़ाए हुए है।

शिमरोन हेटमेयर

पूरन और शिमरोन हेटमेयर विंडीज के मिडिल ऑर्डर के स्‍तंभ हैं। दोनों का मजबूत पक्ष आसानी से छोर बदलना है। यदि इन्‍हें चौका और छक्‍का नहीं मिलता है तो दोनों खिलाड़ी सिंगल और डबल रन लेकर आसानी से स्‍ट्राइक रोटेट करने में सक्षम हैं।

22 वर्षीय हेटमेयर कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्‍लेबाजों की लिस्‍ट में तीसरे नंबर पर थे। इस दौरान उनकी बल्‍लेबाजी औसत 40 रहा। इस खिलाड़ी के पास लंबे-लंबे छक्‍के लगाने की क्षमता है। मिडिल ऑर्डर में स्पिनर्स के खिलाफ किस तरह से खेलना है इस खिलाड़ी को बखूबी आता है।

भारतीय स्पिनर्स युजवेंद्र चहल, क्रुणाल पांड्या और राहुल चाहर इस विंडीज बल्‍लेबाज पर लगाम लगा सकते हैं। देखना दिलचस्‍प होगा कि हेटमेयर इन भारतीय स्पिन गेंदबाजों से किस प्रकार से निपटते हैं।

कार्लोस ब्रेथेवेट

ऑलराउंडर कार्लोस ब्रेथवेट का टी-20 वर्ल्‍ड कप के फाइनल में अंतिम ओवर में बेन स्‍टोक्‍स की गेंद पर लगाए गए लगातार 4 छक्‍के आज भी सबके जेहन में है। ब्रेथवेट ने इंग्‍लैंड में संपन्‍न विश्‍व कप में न्‍यूजीलैंड के खिलाफ भी कुछ उसी तरह की भूमिका निभाने की कोशिश की थी।

पढ़ें: जब भारत के लिए पहली बार खेला तब अपरिपक्व था: श्रेयस अय्यर

उन्‍होंने मैनचेस्‍टर में खेले गए मैच में विंडीज की जीत लगभग सुनिश्चित कर दी थी। ब्रेथवेट टी-20 के एक बेहतरीन ऑलराउंडर हैं जो बल्‍ले के साथ गेंद से भी कमाल करने का माद्दा रखते हैं। उनके नाम टी-20 में 131 विकेट दर्ज है। उनका बल्‍लेबाजी में स्‍ट्राइक रेट 144.68 है।

जसप्रीत बुमराह जैसे अहम तेज गेंदबाज की गैरमौजूदगी में डेथ ओवरों में टीम इंडिया को ब्रेथवेट पर अंकुश लगाने का तोड़ ढूढ़ना होगा।

आंद्रे रसेल

आंद्रे रसेल टी-20 के सबसे उपयुक्‍त खिलाड़ी माने जाते हैं। उन्‍हें गेंद को किसी भी एरिया में हिट करने में कोई दिक्‍कत नहीं होती। रसेल के जुड़ने से विंडीज टीम बेहद मजबूत दिखती है। वो एक पावर हिटर हैं।

टी-20 में रसेल के नाम 17 अर्धशतक और दो शतक हैं। रसेल ने हाल में खुद को बतौर बल्‍लेबाज काफी तराशा है। उनके नाम टी20 में 270 विकेट हैं। उनकी विस्‍फोटक बल्‍लेबाजी उन्‍हें इस गेम का सबसे खतरनाक खिलाड़ी बनाता है।

रसेल के लिए आईपीएल 2019 बेहतरीन रहा है। उन्‍होंने 56.67 की औसत से कुल 510 रन बनाए। उनके इस प्रदर्शन को देखते हुए भारतीय टीम के लिए उनसे निपटना मुश्किल चुनौती है।

सुनील नरेन

सुनील नरेन को यदि जादूगर कहा जाए तो कोई अतिश्यिोक्ति नहीं होगी। नेरन अलग-अलग तरीके से गेंदबाजी करने में माहिर हैं। कैरम बॉल, दूसरा, क्विकर वन, स्‍ट्रेटर वन और नकल बॉल इनके तरकश के तीर हैं।

टी-20 (घरेलू और इंटरनेशनल मिलाकर) में नरेन अब तक कुल 370 विकेट ले चुके हैं। गेंदबाजी के अलावा नेरन पिंच हिटर का भी काम करते हैं। आईपीएल फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइटराइडर्स ने नरेन की बल्‍लेबाजी क्षमता को निखारने में काफी मदद की है। नरेन आईपीएल में केकेआर की ओर से बतौर ओपनर क्रीज पर उतरते हैं और पावरप्‍ले में जमकर रन बटोरते हैं।