ICC World Cup 2019: Top 5 highest individual scores in World Cup
Chris Gayle, Saurav Ganguly, Martin Guptil

क्रिकेट के ‘महाकुंभ’ यानी आईसीसी विश्‍व कप के 12वें एडिशन का आगाज होने में महज 12 दिन का समय बचा है। पिछले 11 एडिशन में बल्‍लेबाजों ने अहम मौकों पर कई ऐसी यादगार पारियां खेली है जिसे फैंस कभी भुला नहीं सकते।

पढ़ें: सचिन का 16 साल से अजेय रिकॉर्ड क्‍या इस बार टूटेगा?

1983 विश्‍व कप विजेता भारतीय टीम के कप्‍तान कपिल देव की जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ खेली गई नाबाद 175 रन की पारी भी उन्‍हीं में से एक है। कपिल ने 1983 के विश्‍व कप में ये अहम पारी खेली थी जब उनकी टीम 9 रन के कुल स्‍कोर पर 4 विकेट गंवा चुकी थी।

वेस्‍टइंडीज के दिग्‍गज विव रिचर्डस ने भी 1987 के वर्ल्‍ड कप में श्रीलंका के खिलाफ 181 जबकि न्‍यूजीलैंड के विस्‍फोटक ओपनर मार्टिन गुप्टिल ने पिछले विश्‍व कप में नाबाद 237 रन की धमाकेदार पारी खेली थी। इंग्‍लैंड एंड वेल्‍स में 30 मई से शुरू होने वाले विश्‍व कप से पहले हम यहां उन 5 बल्‍लेबाजों के बारे जानेंगे जिन्‍होंने इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में सर्वाधिक निजी स्‍कोर बनाया है।

मार्टिन गुप्टिल

न्‍यूजीलैंड के सलामी बल्‍लेबाज मार्टिन गुप्टिल ने 2015 विश्‍व कप के क्‍वार्टरफाइनल में वेस्‍टइंडीज के खिलाफ वेलिंग्‍टन में वनडे इतिहास का दूसरा निजी सर्वोच्‍च स्‍कोर बनाया। गुप्टिल ने इस मैच में न्‍यूजीलैंड की पारी में पहली और आखिरी गेंद का सामना किया। उन्‍होंने 163 गेंदों पर नाबाद 237 रन की पारी खेली जो वर्ल्‍ड कप के इतिहास में किसी बल्‍लेबाज की ओर से बनाया गया सर्वोच्‍च निजी स्‍कोर है।

गुप्टिल ने इस मैच में जो दोहरा शतक लगाया उसमें विपक्षी टीम के बल्‍लेबाज मार्लन सैमुअल्‍स का भी अहम योगदान रहा जिन्‍होंने पहले ओवर में ही गुप्टिल का कैच स्‍क्‍वॉयर लेग में ड्रॉप कर दिया था।

पढ़ें: विकेट के पीछे शिकार के मामले में धोनी से आगे संगकारा और गिलक्रिस्‍ट

जीवनदान मिलने के बाद गुप्टिल ने यादगार पारी खेली जिसमें 24 चौके और 11 छक्‍के शामिल थे। गुपिटल की इस शानदार पारी से मेजबान न्‍यूजीलैंड ने इस मैच में 6 विकेट पर 393 रन का स्‍कोर खड़ा किया था। जवाब में विंडीज टीम गुप्टिल के निजी स्‍कोर से 13 रन ज्‍यादा बना पाई।

क्रिस गेल

वर्ष 2015 के वर्ल्‍ड कप में ही वेस्‍टइंडीज के विस्‍फोटक सलामी बल्‍लेबाज क्रिस गेल ने जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ 215 रन की पारी खेली थी। गेल की ये शानदार पारी गुप्टिल के क्‍वार्टरफाइनल में खेली गई धमाकेदारी पारी से पहले आई थी।

गेल विश्‍व कप में दोहरा शतक जड़ने वाले पहले बल्‍लेबाज हैं। इस मैच में विंडीज टीम एक समय 1 विकेट पर 165 रन बना चुकी थी। इसके बाद गेल नाम का तूफान आया। गेल ने इस मैच में 105 गेंदों पर शतक पूरा किया। इसके बाद उन्‍होंने जो दूसरा 100 बनाया वो महज 33 गेंदों में आया।

पढ़ें: कुंबले के नाम वर्ल्‍ड कप में ऐसा रिकॉर्ड जिसके आगे चित हुए सचिन-सहवाग

गेल पहले ऐसे गैर भारतीय बल्‍लेबाज हैं जिन्‍होंने वनडे में दोहरा शतक लगाया है। गेल पारी के अंतिम गेंद पर आउट हुए। उन्‍होंने अपनी शानदार पारी में 10 चौके और 16 छक्‍के लगाए थे।

गैरी कर्स्‍टन

टीम इंडिया के पूर्व कोच गैरी कर्स्‍टन वर्ल्‍ड कप में शतक लगाने वाले दक्षिण अफ्रीका के पहले बल्‍लेबाज हैं। इस पूर्व ओपनर ने 1996 के वर्ल्‍ड कप में संयुक्‍त अरब अमीरात (यूएई) के खिलाफ नाबाद 188 रन की पारी खेली थी। कर्स्‍टन की रिकॉर्डतोड़ पारी के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने 5 विकेट पर 321 रन बनाए थे।

उन्‍होंने अपनी पारी में 13 चौके और 4 छक्‍के लगाए थे। इस दौरान कर्स्‍टन ने 159 गेंदों का सामना किया था। कर्स्‍टन की इस पारी ने वनडे क्रिकेट के बड़े प्‍लेटफॉर्म पर सर्वोच्‍च निजी स्‍कोर का बेंच मार्क स्‍थापित किया था। इस मैच में यूएई टीम 8 विकेट पर 152 रन ही बना सकी और मुकाबला 169 रन के बड़े अंतर से हार गई।

सौरव गांगुली

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली ने सीमित ओवरों के क्रिकेट में 1999 वर्ल्‍ड कप में संभवत: अपनी बेस्‍ट पारी खेली। गांगुली ने टांटन में गत चैंपियन श्रीलंका के खिलाफ ये यादगार पारी खेली थी।

इस मैच में गांगुली और टीम इंडिया की दीवार कहे जाने वाले राहुल द्रविड़ ने श्रीलंकाई गेंदबाजों का डटकर सामना करते हुए रिकॉर्ड 318 रन की साझेदारी कर डाली। तब ये वनडे क्रिकेट में ऑलटाइम रिकॉर्ड था। द्रविड़ ने 129 गेंदों पर 145 रन की पारी खेली जबकि गांगुली ने अपना शतक पूरा करने के लिए 119 गेंदों का सहारा लिया। तीन अंकों तक पहुंचने के लिए गांगुली ने अपना गियर बदला।

पढ़ें: वो पांच गेंदबाज जिन्‍होंने वर्ल्‍ड कप में ढाया कहर

गांगुली ने शतक के बाद 39 गेंदों पर 83 रन जोड़ डाले। उनकी पारी में 17 चौके और 7 छक्‍के शामिल थे। उन्‍होंने 183 रन बेहतरीन पारी खेली।

विव रिचर्डस

वेस्‍टइंडीज के पूर्व कप्‍तान विव रिचर्डस ने श्रीलंका के खिलाफ 1987 के वर्ल्‍ड कप में 181 रन की शानदार पारी खेली थी। विंडीज टीम 45 रन पर 2 विकेट गंवा चुकी थी। इसके बाद रिचर्डस ने 125 गेंदों पर तूफानी पारी खेली। उन्‍होंने कराची में खेले गए इस मैच में डेसमंड हेंस के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 182 रन की साझेदारी भी की। रिचर्डस ने अपनी शानदार पारी में 16 चौके और 7 छक्‍के लगाए।

दिग्‍गज रिचर्डस की विस्‍फोटक पारी के दम पर विंडीज ने 50 ओवर में 4 विकेट पर 360 रन बनाए थे। विंडीज के इस महान खिलाड़ी ने इस दौरान कपिल देव के नाबाद 175 रन का रिकॉर्ड भी ध्‍वस्‍त किया। विंडीज टीम ने इस मुकाबले को 191 रन के बड़े अंतर से जीता।